परिवारवादियों और भ्रष्टाचारियों का गठजोड़ सत्ता हासिल करने के लिए बेचैन : भाजपा

Photo of author

पटना, 13 मई . बिहार के डिप्टी सीएम और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने कांग्रेस पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि बार-बार संविधान से छेड़छाड़ करने वाली कांग्रेस ने ही 1975 में देश के लोकतंत्र को इमरजेंसी लगाकर अपने पैरों तले रौंदा था. रातों-रात चुनी हुई सरकारों को गिराने और तमाम तरह के असंवैधानिक कार्यों को करने वाली कांग्रेस आज लोकतंत्र और संविधान की दुहाई देकर अपने पापों को छिपाना चाहती है.

उन्होंने कहा कि परिवारवाद और भ्रष्टाचार की जननी कांग्रेस आज देश के तमाम परिवारवादियों और भ्रष्टाचारियों का गठजोड़ कर सत्ता हासिल करने के लिए बेचैन है. देश की जनता कांग्रेस के चाल, चरित्र और चेहरा को अच्छी तरह से पहचानती है. सत्ता के स्वार्थ में ही आज गैर-कांग्रेसवाद की कोख से निकले लालू यादव यानी राजद, कांग्रेस की चरण वंदना करने में लगे हैं. कांग्रेस के शहजादा राहुल गांधी ने ऑर्डिनेंस की कॉपी को सार्वजनिक तौर पर फाड़कर अपना तेवर दिखाया था, जिस कारण सजायाफ्ता होकर लालू यादव आज पंचायत का चुनाव तक नहीं लड़ सकते हैं.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने धर्म के आधार पर मुसलमानों को आरक्षण देने के दो-तीन बार प्रयास किए किंतु न्यायालय ने इन्हें असंवैधानिक बताकर रद्द कर दिया. अब एक बार फिर मुस्लिम आरक्षण का वादा करके वोटों के ध्रुवीकरण और तुष्टीकरण की कोशिश की जा रही है. अल्पसंख्यक के नाम पर तुष्टीकरण की राजनीति करने वाली कांग्रेस और राजद को अल्पसंख्यक के तौर पर जैन, बौद्ध, सिख, पारसी आदि दिखाई नहीं पड़ते हैं. इसी से इनका गुप्त एजेंडा समझा जा सकता है.

उन्होंने आगे कहा कि बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर का संविधान धार्मिक आधार पर आरक्षण की इजाजत नहीं देता है. मगर, कांग्रेस और राजद लगातार मुस्लिम आरक्षण की वकालत कर रहे हैं, क्या संविधान को बदले बिना यह संभव है?

एमएनपी/एकेएस