असम में भाजपा पुनः सत्ता में आएगी : बैजयंत पांडा

नई दिल्ली (New Delhi) . भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और दिल्ली प्रदेश के प्रभारी बैजयंत जय पांडा ने दावा किया है कि एक बार फिर से भाजपा असम में सरकार बनाने जा रही है. पांडा ने आज दिल्ली में कोविड-19 (Covid-19) का टीका लगवाने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि असम में पार्टी सत्ता में आ रही है. केन्द्र और राज्य सरकार (State government) के कामों से जनता पूरी तरह खुश है और किसी प्रकार की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) (Prime Minister Narendra Modi) या राज्य सरकार (State government) के प्रति विरोधी लहरें नहीं थी. इस दौरान प्रदेश भाजपा मीडिया (Media) प्रमुख नवीन कुमार और प्रदेश भाजपा डॉक्टर (doctor) सेल के सह-प्रभारी डॉ. अनिल गोयल मौजूद थे.

जय पांडा ने दिल्ली में रात्रि कर्फ्यू के बारे पूछे जाने पर कहा कि रात्रि कर्फ्यू से कोई विशेष लाभ नहीं होने वाला है. इसकी जगह सरकार को दिन में बाजारों में भीड़-भाड़ कम करने के साथ अन्य ऐसे उपाय करने चाहिए जिससे किसी वर्ग का अहित न हो और कोरोना से बेहतर ढंग से बचा जा सके. उन्होंने टीकाकरण और कोरोना जांच बढ़ाने और अस्पतालों में स्वास्थ्य सेवाओं को और बेहतर बनाने जैसे कदम उठाने को कहा.

जय पांडा ने कहा कि असम में जो पिछले 70 वर्षों में नहीं हो पाया वह पिछले 5 वर्षों में हुआ है. विकास की गति काफी तेज रही और जिस तरह से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) (Prime Minister Narendra Modi) स्वयं उत्तर-पूर्वी क्षेत्र के विकास में रुचि ले रहे हैं, इससे क्षेत्र के हर नागरिक का भाजपा के प्रति विश्वास बढ़ा है. असम में हुआ भारी मतदान बताता है कि भाजपा एक बार फिर से सत्ता में आने जा रही है.

जय पांडा ने कोविड-19 (Covid-19) की महामारी (Epidemic) के समय डॉक्टरों (Doctors) और स्वास्थ्यकर्मियों के काम की सराहना करते हुए कहा कि स्वयं की जान को खतरे में डालकर हम सबकी जान बचाने में जुटे स्वास्थ्यकर्मी वास्तव में सराहना के योग्य हैं. उन्होंने जनता से महामारी (Epidemic) के बचाव के लिए बने सभी नियमों की पुरजोर तरीके से पालन करने की अपील करते हुए कहा कि सभी को टीकाकरण कराना चाहिए.

Check Also

देश में 12 दिन में दोगुनी हुई कोरोना संक्रमण दर 18 लाख से अधिक हुए एक्टिव केस

नई दिल्ली (New Delhi) . भारत में कोरोना (Corona virus) संक्रमण की रोजाना दर पिछले …