राम मंदिर के शुद्धिकरण के बयान पर भड़की भाजपा, कहा- कांग्रेस ने एससी, एसटी और ओबीसी समाज का किया अपमान

Photo of author

नई दिल्ली, 11 मई . भाजपा राष्ट्रीय प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले द्वारा राम मंदिर का शुद्धीकरण करवाने को लेकर दिए गए बयान की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि कांग्रेस एक तरफ पाकिस्तान के सम्मान की बात करती है और दूसरी तरफ राम मंदिर का अपमान करती है.

भाजपा राष्ट्रीय मुख्यालय में मीडिया से बात करते हुए उन्होंने महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष के बयान को एससी, एसटी और ओबीसी समाज का घोर अपमान बताते हुए कांग्रेस पर जमकर हमला बोला.

भाजपा राष्ट्रीय प्रवक्ता ने कहा कि कांग्रेस नेता का यह बयान राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू द्वारा रामलला के दर्शन करने के तुरंत बाद आया है, इसलिए उनका यह बयान एसटी समाज का घनघोर अपमान है.

उन्होंने कहा कि दलित समाज से आने वाले कामेश्वर चौपाल ने राम मंदिर की आधारशिला रखी, कांग्रेस ने उनका भी विरोध किया. ओबीसी समाज से आने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भी कांग्रेस ने विरोध किया और अब जब आदिवासी समाज से आने वाली राष्ट्रपति ने रामलला का दर्शन किया तो कांग्रेस उनका भी विरोध कर रही है.

आरक्षण को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम द्वारा दिए गए बयान को झूठ बताते हुए सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि एससी और एसटी को आरक्षण बाबा साहेब अंबेडकर ने दिया था और यह पहले अंग्रेजी राज में लागू हुआ था.

उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने पहले जम्मू कश्मीर में एससी, एसटी और ओबीसी आरक्षण लागू नहीं होने दिया. यहां तक कि कांग्रेस ने जामिया मिलिया इस्लामिया और अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय से भी आरक्षण वापस ले लिया.

भाजपा प्रवक्ता ने राहुल गांधी के बहस की चुनौती और लिख कर सरकार बनाने के दावे पर भी कटाक्ष करते हुए उनकी आलोचना की.

एसटीपी/