ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की बड़ी कार्रवाई, सफाई व्यवस्था में खामियां मिलने पर दो कंपनियों पर जुर्माना

Photo of author

ग्रेटर नोएडा, 10 मई . ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने सफाई व्यवस्था में कमी मिलने पर दो फर्म के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है. प्राधिकरण ने दोनों फर्म पर 25-25 हजार रुपये का जुर्माना लगाया है.

दरअसल, ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के ओएसडी संतोष कुमार ने शुक्रवार को सेक्टर-36, 37, पाई-1 की सर्विस रोड, स्वर्ण नगरी और ऐच्छर गांव में सफाई व्यवस्था का जायजा लिया. इस दौरान सेक्टर पाई-वन, सेक्टर-36 और ऐच्छर गांव में सफाई व्यवस्था में कई खामियां देखने को मिली जिस पर टीम से नाराजगी जाहिर की.

प्राधिकरण के ओएसडी ने सफाई व्यवस्था में लापरवाही के आरोप में दो फर्म पर 25-25 हजार रुपये का जुर्माना लगाया. ये कार्रवाई मैसर्स एजी एनवायरो इंफ्रा प्रोजेक्ट और मैसर्स एंटोनी वेस्ट हैंडलिंग सेल पर की गई है.

बता दें कि ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ एनजी रवि कुमार ने ग्रेटर अभियान चलाकर सफाई व्यवस्था को दुरुस्त करने के निर्देश दिए हैं. इसी कड़ी में ओएसडी संतोष कुमार ने शुक्रवार को सुबह 7 बजे से सेक्टर 36-37 और ऐच्छर गांव में सफाई व्यवस्था का जायजा लिया. इस दौरान वरिष्ठ प्रबंधक चेतराम सिंह समेत स्वास्थ्य विभाग की टीम मौजूद रही.

ओएसडी ने सड़कों के किनारे फुटपाथ के अलावा सेक्टरों और गांवों में नियमित रूप से सफाई कराने के निर्देश दिए. निरीक्षण के दौरान एक सफाईकर्मी को उसके काम के प्रति निष्ठा को देखते हुए पुरस्कृत भी किया गया.

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ एनजी रवि कुमार ने ग्रेटर नोएडावासियों से सफाई व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने में सहयोग की अपील की है.

पीकेटी/पीएसके/एसजीके