बंगाल स्कूल भर्ती घोटालाः ईडी अधिकारियों के पहुंचते ही अस्पताल ने सुजय भद्र को आईसीयू में भेजा – indias.news

कोलकाता, 8 दिसंबर . बंगाल स्कूल भर्ती घोटाला मामले में गिरफ्तार सुजय कृष्ण भद्र को केंद्र संचालित ईएसआई अस्पताल में स्थानांतरित करने के लिए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अधिकारी शुक्रवार सुबह राज्य संचालित एस.एस.के.एम. मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल पहुंचे, लेकिन उन्हें पता चला कि भद्र को आईसीयू में शिफ्ट कर दिया गया है.

केंद्रीय एजेंसी भद्र की आवाज के नमूने लेने के लिए आवश्यक चिकित्सा परीक्षण करने के उद्देश्य से उन्हें ईएसआई अस्पताल ले जाने आई थी.

एस.एस.के.एम पहुंचने पर अस्पताल के अधिकारियों ने केंद्रीय एजेंसी के अधिकारियों को सूचित किया कि पश्चिम बंगाल में स्कूल में नौकरी के बदले करोड़ों रुपये के मामले के मुख्य आरोपी भद्र को सीने में दर्द की शिकायत के बाद गुरुवार रात उनके केबिन से आईसीयू में स्थानांतरित करना पड़ा.

इस घटनाक्रम ने भद्र को ईएसआई अस्पताल में स्थानांतरित करने की दिशा में और अनिश्चितताएं पैदा कर दी हैं. एसएसकेएम पहुंचे ईडी अधिकारियों को भी बड़ी निराशा हुई जो अपने साथ एक अत्याधुनिक एम्बुलेंस लेकर गये थे.

खबर लिखे जाने तक ईडी के अधिकारी एस.एस.के.एम. अस्पताल के अधिकारियों और मेडिकल टीम से चर्चा कर रहे थे.

हाल ही में एस.एस.के.एम. अधिकारियों ने ईडी को बताया कि भद्र का मनोचिकित्सक से भी इलाज चल रहा है.

उनकी बायपास सर्जरी के बाद जब से उन्हें एस.एस.के.एम. में भर्ती कराया गया था तब से उनकी आवाज का नमूना परीक्षण करने की प्रक्रिया में कई बाधाओं का सामना करना पड़ रहा है. पिछली बार अस्पताल के अधिकारियों ने उन्हें चिकित्सा आधार आवाज के नमूने की जाँच की अनुमति नहीं दी.

आखिरकार, ईडी को पहले आवश्यक मेडिकल जांच के लिए भद्र को ईएसआई अस्पताल में स्थानांतरित करने के लिए कोलकाता की एक विशेष अदालत से अनुमति मिल गई.

आवाज का नमूना परीक्षण यह देखते हुए जरूरी हो गया है कि कलकत्ता उच्च न्यायालय की एक खंडपीठ ने हाल ही में ईडी को स्कूल भर्ती घोटाले में अपनी जांच 31 दिसंबर तक खत्म करने का निर्देश दिया है.

एकेजे