नई दिल्ली, 4 अप्रैल . भारतीय महिला हॉकी टीम की मिडफील्डर सलीमा टेटे ने रविवार को हॉकी इंडिया छठे वार्षिक पुरस्कार 2023 में महिला वर्ग में प्लेयर ऑफ द ईयर 2023 के लिए प्रतिष्ठित हॉकी इंडिया बलबीर सिंह सीनियर पुरस्कार जीता.

सलीमा, जो भारतीय हॉकी टीम का एक अभिन्न हिस्सा बन चुकी है और लगातार अपने प्रदर्शन से टीम की एक अहम खिलाड़ी बन चुकी हैं. 23 वर्षीय खिलाड़ी भारत की कांस्य पदक विजेता एशियाई खेल हांगझोऊ 2022 टीम का भी हिस्सा थी और उन्होंने टूर्नामेंट में 1 गोल किया था.

सलीमा ने रांची में झारखंड महिला एशियाई चैंपियंस ट्रॉफी 2023 में भी पांच गोल किए, जिससे भारत को ट्रॉफी जीतने में मदद मिली और उन्हें प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट भी चुना गया.

झारखंड के सिमडेगा जिले की रहने वाली सलीमा ने पुरस्कार जीतने पर खुशी व्यक्त की और कहा, “मेरे करियर में पहली बार इतने बड़े पुरस्कार से सम्मानित होना बहुत अच्छा लग रहा है. यह एक बड़ा सम्मान है और मेरे पूरे करियर के दौरान मुझे इससे प्रेरणा मिलेगी.

सलीमा ने आगे कहा, “इस पुरस्कार ने मेरे अंदर और भी बेहतर प्रदर्शन करने की इच्छा पैदा की है. मेरी योजना प्रशिक्षण शिविर में एक मिनट भी न चूकने और हर सत्र में अपना 100 प्रतिशत देने की है. मुझे पता है कि मैंने पुरस्कार जीता है, लेकिन अब मेरे लिए यह जिम्मेदारी है कि मैं आगे भी अपने खेल में और सुधार करूं.”

सलीमा ने 2016 में मेलबर्न में ऑस्ट्रेलिया बनाम भारत मैच में भारतीय सीनियर महिला हॉकी टीम के लिए डेब्यू किया, लेकिन फिर टीम की नियमित खिलाड़ी बनने के लिए उन्हें तीन साल तक इंतजार करना पड़ा. सीनियर टीम के लिए अब तक 107 अंतर्राष्ट्रीय कैप पहन चुकीं सलीमा ने अपने करियर में 15 गोल किए हैं.

वह उस भारतीय महिला हॉकी टीम का हिस्सा थी, जिसने टोक्यो ओलंपिक 2020 में ऐतिहासिक चौथा स्थान हासिल किया और राष्ट्रमंडल खेल 2022 में अपनी टीम को कांस्य पदक जीतने में भी मदद की. वह स्पेन में 2022 में महिला नेशंस टूर्नामेंट में स्वर्ण जीतने वाली टीम की भी प्रमुख खिलाड़ी थीं. उन्होंने पांच मैचों में पांच गोल किये थे.

पुरस्कार के साथ-साथ सलीमा को 25 लाख रुपये का चेक भी प्रदान किया गया. मिडफील्डर ने इस कदम के लिए हॉकी इंडिया का आभार व्यक्त किया और बताया कि कैसे पुरस्कार से उनके परिवार को मदद मिलेगी.

सलीमा ने आगे कहा कि ये पुरस्कार युवाओं को बेहतर प्रदर्शन और नई पीढ़ी को हॉकी के खेल को अपनाने के लिए प्रेरित करते हैं.

एएमजे/आरआर