आर्यन खान को मिली जमानत, लेकिन शनिवार को हो पाएगी रिहाई

मुंबई (Mumbai) . क्रूज़ ड्रग्स केस में शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को जमानत मिल गई है. करीब 24 दिन बाद आर्यन खान को रिहाई नसीब हुई. आर्यन के साथ-साथ अरबाज मर्चेंट और मुनमुन धमेचा को भी बॉम्बे हाई कोर्ट ने जमानत दे दी है. जस्टिस नितिन सांब्रे की अदालत ने तीन दिन की लगातार सुनवाई के बाद गुरुवार (Thursday) को जमानत पर फैसला सुनाया. दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद कोर्ट ने तीनों आरोपियों- आर्यन, अरबाज और मुनमुन को जमानत दे दी.

पूर्व अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने बॉम्बे हाई कोर्ट में आर्यन खान की पैरवी की थी, वहीं अरबाज मर्चेंट के लिए अमित देसाई और मुनमुन धमेचा के लिए अली काशिफ खान ने जोरदार दलीलें दीं. कोर्ट में एनसीबी की तरफ से एएसजी अनिल सिंह ने आर्यन की जमानत का पुरजोर विरोध किया. लेकिन मुकुल रोहतगी ने अपने जोरदार तर्कों से आर्यन को जमानत दिलवा ही दी. हालांकि अभी बेल ऑर्डर की कॉपी नहीं आई है. और जब तक ऑर्डर की कॉपी नहीं आएगी, तब तक आर्यन, अरबाज और मुनमुन को रिहा नहीं किया जाएगा.

गुरुवार (Thursday) को हुई सुनवाई में एएसजी अनिल सिंह ने जमानत का विरोध करते हुए कोर्ट में तर्क दिया कि आर्यन ड्रग्स का इंतजाम करते थे. वह कई सालों से ड्रग्स का सेवन करते आ रहे थे और इसके उनके पास सबूत भी हैं. एनसीबी ने आर्यन पर ‘कॉन्शस पजेशन’ का भी आरोप लगाया और कहा कि वह एक साजिश का हिस्सा थे और इंटरनैशनल ड्रग तस्करी में भी शामिल थे. लेकिन मुकुल रोहतगी ने तर्क दिया कि जहाज पर 1300 लोग थे और उनमें से सिर्फ अरबाज और आर्यन के बीच ही कनेक्शन था. वहां कोई साजिश नहीं थी क्योंकि बाकी 1300 में कोई किसी को नहीं जानता था. ऐसे में न तो मन का मिलन हुआ और न ही कोई चर्चा हुई. ऐसे में साजिश का सवाल ही नहीं उठता. मुकुल रोहतगी ने कहा कि भले ही यह साबित करना मुश्किल है कि सबके मन मिले थे, लेकिन इस चक्कर में फैक्ट्स की अनदेखी नहीं की जा सकती. आर्यन खान की जमानत के लिए 28 और 29 अक्टूबर का दिन बहुत अहम माना जा रहा था. अगर आज या कल भी आर्यन को जमानत नहीं मिलती तो उन्हें दिवाली के बाद तक जेल में ही रहना पड़ता. लेकिन आर्यन की जमानत के साथ गौरी की मन्नत भी पूरी हो गई है. गौरी ने मन्नत मांगी थी कि जब तक उनका लाडला आर्यन रिहा होकर घर नहीं आएगा, वह मीठा नहीं खाएंगी. लेकिन अब आर्यन की जमानत से उनके घर ‘मन्नत’ में भी जश्न का माहौल होगा. शाहरुख का 2 नवंबर को बर्थडे है और उनके लिए बेटे की रिहाई यकीनन बेस्ट बर्थडे गिफ्ट है.

Check Also

गुलाम नबी आजाद का जम्‍मू-कश्‍मीर में नई पार्टी बनाने से इंकार

श्रीनगर (Srinagar) . कांग्रेस के असंतुष्ट नेताओं में शामिल गुलाम नबी आजाद ने जम्‍मू-कश्‍मीर में …