भाजपा में मनभेद मतभेद के विचारो के बीच अब होर्डिग्स पोस्टर की रार


जयपुर (jaipur) . भारतीय जनता पार्टी में मनभेद मतभेद के विचारो के बीच अब होर्डिग्स पोस्टर की रार सामने आई है भारतीय जनता पार्टी के कार्यालय के बाहर लगे होर्डिग्स में दिखाये गए चेहरो नरेन्द्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष जेपी नडडा के साथ राजस्थान (Rajasthan)के अध्यक्ष सतीश पूनियां, विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया दिखाई दे रहे है जिस पर भाजपा के लोगों में खुसर फुसर शुरू हो गई है कि कांग्रेस के भीतर अलगांववाद पर बयान देने वाले भारतीय जनता पार्टी के नेता अपने गिरेबारन में भी झांककर देख ले.

ज्ञात रहे कि करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने भाजपा मुख्यालय के मुख्य होर्डिंग में गुलाबचंद कटारिया की फोटो पर स्याही पोत दी थी उपचुनाव प्रचार के दौरान कटारिया ने महाराणा प्रताप के बारे में टिप्पणियां की थीं, जिनके विरोध में कटारिया के फोटो पर कालिख पोती थी. 13 अप्रैल को स्याही पोतने से खराब होर्डिंग हटा लिया गया था. अब जब नया होर्डिंग बनकर आया तो उससे वसुंधरा राजे और राजेंद्र राठौड़ गायब हैं. भाजपा मुख्यालय पर लगे नए होर्डिंग से वसुंधरा राजे और राजेंद्र राठौड़ के फोटो गायब होने के पीछे किसी तरह की राजनीति से इनकार किया है.

भाजपा प्रवक्ता का कहना है कि राष्ट्रीय स्तर पर पार्टी ने सभी प्रदेशों के लिए मुख्य होर्डिंग, पोस्टर का फॉर्मेट तैयार किया है. इसके तहत प्रधानमंत्री, राष्ट्रीय अध्यक्ष, प्रदेशाध्यक्ष और मुख्यमंत्री (Chief Minister) या नेता प्रतिपक्ष के ही फोटो लगेंगे. इस नए फॉर्मेट के तहत ही पार्टी मुख्यालय के बाहर केवल प्रदेशाध्यक्ष और नेता प्रतिपक्ष के फोटो लगाए हैं. भाजपा ने होर्डिंग का भले नया पैटर्न अपनाया हो, लेकिन पूर्व सीएम वसुंधरा राजे का फोटो गायब करने की सियासी हलकों में चर्चाएं खूब हैं. सियासी हलकों में इसे वसुंधरा राजे और विरोधी खेमे के बीच की खींचतान से ही जोडक़र देखा जा रहा है.

Check Also

हनुमान को बचाने राम नहीं आए, चिराग पासवान का अप्रत्यक्ष पीएम मोदी पर हमला

  पटना (Patna) . लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) में नेतृत्व को लेकर चाचा और भतीजे …