एलर्जी से होने वाली बीमारियों का मानसिक स्वास्थ्य से संबंध नहीं

नई दिल्ली (New Delhi) . ब्रिटेन की ब्रिस्टल यूनिवर्सिटी के नेतृत्व में की गई ‎किए गए अध्ययन में यह खुलासा हुआ है ‎कि एलर्जी से होने वाली बीमारियों का मानसिक स्वास्थ्य से कोई लेना देना नहीं है. ताजा रिपोर्ट के अनुसार, इस रिसर्च में दावा किया गया है कि एलर्जी से होने वाली बीमारियां जैसे अस्थमा, दाद (खुजली) और हाई फीवर का मेंटल हेल्थ से कोई लेना-देना नहीं है. करीब 12 हजार से लेकर साढ़े 3 लाख लोगों के बड़े सैंपल पर यह प्रयोग किया गया.

ब्रिस्टल मेडिकल स्कूल के पॉपूलेशन हेल्थ साइंस और साइकॉलोजिकल साइंस के रिसर्चर्स ये पता चलाना चाहते थे कि एलर्जी वाली बीमारियों से बेचैनी, अवसाद, सिजोफ्रेनिया जैसे मानसिक रोग होते हैं, या इन रोगों से एलर्जी संबंधी रोग होते हैं? रिसर्च करने वालों ने एलर्जी से होने वाले रोगों और मानसिक रोगों के लक्षण के बीच अवलोकनात्मक संबंध की पहचान की. लेकिन रिसर्च टीम को इसके विश्लेषण में वो बात नहीं मिली. इस रिसर्च के मुताबिक, एलर्जी की बीमारी की शुरुआत और मेंटल हेल्थ के बीच मिले बहुत कम सबूत ये बताते हैं अवलोकनात्मक संबंध भ्रमित करने या पूर्वाग्रह के अन्य रूपों के कारण पाए गए थे.रिसर्च के लेखकों ने निष्कर्ष निकाला है कि एलर्जी रोग की शुरुआत में हस्तक्षेप करने से मानसिक स्वास्थ्य परिणामों में सुधार की संभावना नहीं है. इसी तरह, मानसिक स्वास्थ्य लक्षणों की शुरुआत को रोकने से एलर्जी की बीमारी का खतरा कम नहीं होगा. हालांकि, यह जांचने के लिए और शोध की आवश्यकता है कि क्या शुरुआत के बाद एलर्जी की बीमारी के बढ़ने पर हस्तक्षेप करने से मानसिक स्वास्थ्य पर कोई प्रभाव पड़ता है या नहीं. इस रिसर्च की मुख्य लेखक और ब्रिस्टल मेडिकल स्कूल में सीनियर रिसर्च एसोसिएट डॉ एशले बुडु-एग्रे ने कहा है, “एंग्जाइटी और डिप्रेशन जैसे कॉमन मेंटल हेल्थ डिसऑर्डर के वैश्विक बोझ में सबसे बड़े योगदानकर्ता हैं, मेंटल हेल्थ से जुड़ी ऐसी सामान्य बीमारियां और एलर्जी से होने वाली बीमारियों का प्रसार कुछ समय से बढ़ रहा है.

इस रिसर्च से एलर्जी रोगों और मानसिक स्वास्थ्य के बीच संबंधों की प्रकृति को अलग करने से एक महत्वपूर्ण स्वास्थ्य प्रश्न का उत्तर देने में मदद मिलती है, वो ये है कि एलर्जी रोग की शुरुआत मानसिक स्वास्थ्य लक्षणों की शुरुआत नहीं बनती है, ऐसे ही मानसिक स्वास्थ्य लक्षणों की शुरुआत एलर्जी रोग की शुरुआत का कारण नहीं बनती है.”आपको बता दें कि पहले स्टडी में मेंटल हेल्थ और सामान्य एलर्जी से जुड़े रोगों के बीच अवलोकनात्मक संबंध यानी ऑब्जर्वेशनल रिलेशनशिपहोने की बात बताई गई थी. लेकिन अभी तक उसके कारक कारणों के बीच संबंध स्थापित नहीं हो सका है.

Check Also

मैदा और आटे में बोरिक एसिड की मिलावट जांचने के लिए एफएसएसएआई ने बताई तरकीब

नई दिल्ली (New Delhi) . त्योहार के मौसम में बाजार में मिलावटी चीजों की खूब …