अकरम इसलिए नहीं बनाना चाहते हैं कोच

लाहौर . पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान वसीम अकरम ने कहा है कि वह पाक टीम के मुख्य कोच नहीं बनना चाहते हैं. अकरम ने कहा कि इस काम में उनकी रुचि नहीं है क्योंकि इसके लिए लंबे समय तक अपने परिवार से दूर रहना होता है. अकरम ने हालांकि पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) में कोचिंग की है पर वह कभी भी पाकिस्तानी पुरुष राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच नहीं बने हैं. अकरम ने एक कार्यक्रम में इस बात का खुलासा किया कि वह पाक में क्यों कोच नहीं बनना चाहते हैं. उन्होंने कहा, जब आप कोच बनते हैं तो आपको साल में कम से कम 200 से 250 दिन टीम को देने की जरूरत होती है और यह काफी कठिन काम है. मुझे नहीं लगता कि मैं अपने परिवार से दूर पाकिस्तान से बाहर इतना काम संभाल सकता हूं. वैसे भी मैं पीएसएल में अधिकांश खिलाड़ियों के साथ समय बिताता हूं, उन सभी के पास मेरा नंबर है और वे सलाह मांगते रहते हैं.”
गौरतलब है कि हाल ही में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने ऑस्ट्रेलिया के महान सलामी बल्लेबाज मैथ्यू हेडन और दक्षिण अफ्रीका के पूर्व तेज गेंदबाज वर्नन फिलेंडर को आईसीसी विश्व टी20 के लिए बाबर आजम की कप्तानी वाली पाक टीम के मुख्य ओर गेंदबाजी कोच के रूप में शामिल किया था. हेडन और फिलेंडर को मुख्य कोच मिस्बाह-उल-हक और गेंदबाजी कोच वकार यूनिस के इस्तीफे के कारण कोच बनाया गया है. कोच बनने की इच्छा को लेकर अकरम ने कहा, मैं बेवकूफ नहीं हूं. मैं सोशल मीडिया (Media) पर सुनता और देखता रहता हूं कि कैसे लोग अपने कोचों और सीनियर्स के साथ बदतमीजी करते हैं. कोच वह नहीं है, जो खेल रहा है. खिलाड़ी हैं, जो खेल रहे हैं. कोच केवल योजना बनाने में मदद कर सकता हैं.

Check Also

पाक के साथ विश्वकप मैच खेलने के पक्ष में प्रकाश पादुकोण

मुंबई (Mumbai) . पूर्व भारतीय बैडमिंटन स्टार प्रकाश पादुकोण का मानना है कि पाकिस्तान के …