अखिलेश ने लिया फूलन देवी की मां के पैर छूकर आर्शीवाद

लखनऊ (Lucknow) . समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने दस्यु से राजनेता बनी दिवंगत पूर्व सांसद (Member of parliament) फूलन देवी की मां से मुलाकात करके उनका आशीर्वाद लिया. मीडिया (Media) को साझा वीडियो में दिख रहा है कि अखिलेश का रथ जब जालौन पहुंचा तो उनकी नजर फूलन देवी की मां मूला देवी पर पड़ी तो उन्होंने अपने वाहन से उतर कर उनके पैर छुए. पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि फूलन की मां ने अखिलेश के कान में कुछ कहा, जिसके बाद सपा अध्यक्ष ने उनसे आगामी विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) में कामयाबी के लिए आशीर्वाद लिया.

गौरतलब है कि बेहमई कांड से सुर्खियों में आई फूलन देवी पर दर्ज मुकदमों को तत्कालीन मुख्यमंत्री (Chief Minister) एवं सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने वापस ले लिया था. उसके बाद मुख्यधारा में लौटने पर फूलन देवी 1996 में मिर्जापुर सीट से सपा के टिकट पर सांसद (Member of parliament) बनी थीं. उसके बाद 1999 में वह दोबारा चुनी गई थीं. वर्ष 2001 में फूलन देवी की दिल्ली स्थित उनके आवास के बाहर गोली मारकरहत्या (Murder) कर दी गई थी. फूलन देवी मिर्जापुर तथा पूर्वी उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कई अन्य हिस्सों में रहने वाले सर्वाधिक पिछड़ी जाति के लोगों में खासी लोकप्रिय थीं. फूलन देवी का जन्म वर्ष 1963 में जालौन जिले के घूरा का पुरवा गांव में एक निषाद परिवार में हुआ था. सपा के पिछड़ा वर्ग इकाई ने हाल ही में फूलन देवी की प्रतिमा स्थापित करने की कोशिश की थी लेकिन प्रशासन ने इसकी इजाजत नहीं दी थी. पार्टी के इस कदम को वर्ष 2019 के लोकसभा (Lok Sabha) चुनाव से ऐन पहले निषाद पार्टी द्वारा खुद को सपा के साथ गठबंधन से अलग कर लेने के बाद निषाद समुदाय को जोड़ने की कवायद के तौर पर देखा जा रहा है.

Check Also

ममता बनर्जी और उनकी पार्टी बीजेपी की बी टीम की तरह काम करती : अधीर रंजन चौधरी

नई दिल्‍ली . लोकसभा (Lok Sabha) में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने पश्चिम …