उत्तराखंड में अलर्ट के बाद पहाड़ में झमाझम बारिश, बदरीनाथ हाईवे पर भूस्खलन सक्रिय · Indias News

उत्तराखंड में अलर्ट के बाद पहाड़ में झमाझम बारिश, बदरीनाथ हाईवे पर भूस्खलन सक्रिय

देहरादून.उत्तराखंड में मौसम विभाग की चेतावनी के बाद आज सुबह से ही पहाड़ी इलाकों में झमाझम बारिश शुरू हो गई है. नैनीताल, अल्मोड़ा रुद्रपुर समेत कई इलाकों में सुबह से ही बारिश होने के कारण तापमान में भी गिरावट आई है. वहीं, मैदानी इलाकों में भी बादल छाए रहने से मौसम सुहावना बना हुआ है. पहाड़ में कई इलाकों में हल्की धूप भी खिली है. बता दें कि मौसम विभाग ने आज प्रदेश के छह जिलों में कई स्थानों पर बहुत भारी बारिश की चेतावनी जारी की है. इसके अलावा चार जिलों में भारी बारिश होने का अनुमान है. मौसम विभाग के अनुसार 15 जुलाई तक प्रदेश भर में ज्यादातर स्थानों पर बारिश का क्रम बना रहेगा. मौसम केंद्र निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि आज पिथौरागढ़, बागेश्वर, उधम सिंह नगर, चंपावत, नैनीताल और अल्मोड़ा जिलों में कुछ स्थानों पर बहुत भारी बारिश हो सकती है. वहीं, राजधानी देहरादून, हरिद्वार, टिहरी और पौड़ी जिलों में कहीं-कहीं भारी बारिश होने का अनुमान है. प्रदेश में कुछ स्थानों पर आकाशीय बिजली गिरने की भी संभावना है. भारी बारिश और भूस्खलन से बदरीनाथ हाईवे पर इन दिनों सफर खतरनाक बना हुआ है. हाईवे पर कई जगह भूस्खलन जोन सक्रिय हो गए हैं. ऑलवेदर रोड परियोजना कार्य के दौरान चट्टानें दरक रही हैं, तो कई चट्टानी भागों में वाहनों की आवाजाही खतरनाक बनी हुई है. बदरीनाथ हाईवे पर कर्णप्रयाग से बदरीनाथ के बीच कालेश्वर, लंगासू, देवलीबगड़, नंदप्रयाग, बांजबगड़, चमोली चाड़ा, बाजपुर, क्षेत्रपाल, बिरही, गडोरा, पीपलकोटी, भनेरपाणी, पातालगंगा, पागल नाला, हेलंग, मारवाड़ी पुल, टैय्या पुल, गोविंदघाट, लामबगड़ और हनुमान चट्टी में चट्टान से भूस्खलन सक्रिय है. पीपलकोटी से पाखी के बीच ऑलवेदर रोड के तहत चट्टानों की कटिंग होने से बार-बार मलबा हाईवे पर आ रहा है और वाहनों की आवाजाही बाधित हो रही है. एनएचआइडीसीएल के प्रबंधक संदीप कार्की का कहना है कि हाईवे पर अधिकांश जगह हिल कटिंग कार्य पूर्ण कर लिया गया है.

Check Also

नोएडा में वेतन बढ़ाने को लेकर प्रदर्शन कर रहे सफाई कर्मचारियों पर लाठीचार्ज

नई दिल्ली (New Delhi). पिछले 15 दिन से वेतन बढ़ाने की मांग को लेकर धरना …