दिग्विजय सिंह के ट्वीट ‘हैशटैग अच्छे दिन’ के बाद डीआरएम ने 50 की प्लेटफॉर्म टिकट 20 रुपए की

भोपाल (Bhopal) . अपने ट्वीट्स को लेकर अक्सर चर्चा में रहने वाले मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री (Chief Minister) और राज्यसभा सांसद (Member of parliament) दिग्विजय सिंह के एक ट्वीट ‘हैशटैग अच्छे दिन’ करते ही बबाल हो गया और पश्चिम मध्य रेलवे (Railway)को बैकपुट पर आना पड़ा. आनन-फानन में प्लेटफॉर्म टिकट के दाम 50 रुपए से कम कर 20 करने पड़े. पूर्व मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने जैसे ही प्लेटफार्म टिकट के दाम पर एक ट्वीट किया, रेलवे (Railway)तुरंत बैकपुट पर आ गया ओर तत्काल ट्वीट कर ये जानकारी दी गई कि, अब से प्लेटफॉर्म टिकट 20 रुपए में मिलेगा.

ज्ञात हो कि रेलवे (Railway)ने प्लेटफार्म टिकट की कीमत में जबरदस्त इजाफा कर दिया था. इस पर पूर्व मुख्यमंत्री (Chief Minister) दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर कहा था कि, ‘हैशटैग अच्छे दिन’. दिग्विजय सिंह का ये ट्वीट सोशल मीडिया (Media) पर वायरल हो गया. जिस पर अच्छा खासा हंगामा मचा. इसके बाद रेल प्रशासन बैकफुट पर चला गया. जिसके बाद जबलपुर (Jabalpur) (Jabalpur)डीआरएम ने फौरन एक ट्वीट कर जानकारी दी कि, अब प्लेटफॉर्म टिकट की कीमत 50 नहीं 20 रुपए होगी.

वहीं बताया जा रहा है कि रेल प्रशासन ने जबलपुर (Jabalpur) (Jabalpur)रेल मंडल के तहत आने वाले स्टेशनों पर प्लेटफार्म टिकट की कीमत 50 रुपए कर दिया था. प्लेटफार्म टिकट की नई दर जबलपुर (Jabalpur) , मदन महल, कटनी, कटनी मुड़वारा, मैहर, सतना, रीवा, सागर, दमोह, नरसिंहपुर, पिपरिया स्टेशनों में से जबलपुर (Jabalpur) (Jabalpur)और मदन महल में प्लेटफॉर्म टिकट की दर 50 रुपये कर दिया गया था, जबकि दूसरे स्टेशनों पर प्लेटफॉर्म टिकट की दर 30 रुपए थी.
दरअसल ऐसे में सवाल उठता है कि इतने महीनों तक रेलवे (Railway)आखिर प्लेटफार्म की टिकट 50 रुपए क्यों वसूलता रहा. सवाल यह भी उठता है कि अगर रेलवे (Railway)प्रबंधन अपनी जगह सही था तो फिर क्यों दिग्विजय सिंह के ट्वीट करते ही बैकफुट पर आ गया.
 

Check Also

कैप्टन अमरिंदर के बीजेपी संग गठबंधन से बढ़ सकती है कांग्रेस की चुनौती

नई दिल्ली (New Delhi) . तमाम कोशिशों के बावजूद पंजाब (Punjab) में कांग्रेस की चुनौतियां …