पाकिस्तान में कोरोना के बाद अब डेंगू ने पैर पसारे, सरकार इस खतरे की ओर से बेपरवाह

इस्‍लामाबाद . पाकिस्‍तान में कोरोना महामारी (Epidemic) के साथ-साथ डेंगू भी पांव पसार रहा है. पाकिस्तान में कोरोना संक्रमण के कुल मामले 1264384 हैं. इसमें 1209878 मरीज ठीक हो चुके हैं. कोरोना की वजह से पाकिस्तान में अब तक 28269 मरीजों की मौत हुई है. हाल के दिनों में कोरोना का प्रकोप घट गया है, लेकिन डेंगू ने पांव पसारने शुरू कर दिए हैं. डेंगू के राष्‍ट्रीय स्‍तर पर आंकड़े जुटाने में सरकार पूरी तरह से नाकाम है.

देश के सार्वजनिक स्‍वास्‍थ्‍य को लेकर जानकार लगातार सरकार को आगाह कर रहे हैं. इनका कहना है कि देश में डेंगू के मामले लगातार बढ़ रहे हैं और पंजाब (Punjab) में इसकी स्थिति बेहद खतरनाक हो चुकी है. पंजाब (Punjab) में 500 लोग जांच के बाद पाजिटिव आए हैं. इसके अलावा 18 मरीजों की मौत भी हो चुकी है. इससे पहले 2019 में भी पाकिस्‍तान में डेंगू ने भयानक रूप ले लिया था. उस वक्‍त यहां पर इसके 50 हजार से अधिक मामले सामने आए थे और 79 मरीजों की मौत हो गई थी.

सरकार का पूरा ध्‍यान फिलहाल कोरोना महामारी (Epidemic) से निजात पाने पर है. यही वजह है कि डेंगू के बढ़ते मामलों की तरफ उसका ध्‍यान ही नहीं गया है. स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के डायरेक्‍टर जनरल डाक्‍टर राणा सफदर से आग्रह किया गया कि डेंगू के राष्‍ट्रीय स्‍तर पर आ रहे मामलों का ब्‍यौरा तैयार कर इसकी जानकारी उपलब्ध कराएं. जिला स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारी डाक्‍टर जईम जिया का कहना है कि स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय और नेशनल इंस्टिट्यूट आफ हैल्‍थ में एक भी व्‍यक्ति ऐसा नहीं है जो इसके राष्‍ट्रीय स्‍तर पर आने वाले मामलों का लेखा-जोखा तैयार कर आंकड़ों को अपडेट करने का काम कर सके.
डेंगू को लेकर देश में बनी असमंजस की स्थिति पर नेशनल इंस्टिट्यूट आफ हैल्‍थ के अधिकारी का कहना है कि हम लोग पूरी तरह से सक्षम हैं, लेकिन इसकी शुरुआत स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय की तरफ से की जाएगी. अफसोस की बात है कि मंत्रालय की प्राथमिकताओं में यह काम शामिल नहीं है.

 

Check Also

चीन में गिरी जन्मदर, युवाओं की घटी शादी कर बच्चे पैदा करने में दिलचस्पी

बीजिंग . चीन में गिरती जन्म दर के अलावा शादी करने और बच्चे पैदा करने …