मथुरा, 4 अप्रैल . यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को सेठ बीएन. पोद्दार इंटर कॉलेज मैदान में आयोजित ‘विजय संकल्प नामांकन सभा’ को संबोधित किया. इस अवसर पर उन्होंने कहा कि अयोध्या, काशी के बाद अब मथुरा और वृंदावन पर सरकार का पूरा फोकस है.

उन्होंने कहा कि मथुरा-वृंदावन में विकास की गति और तेज किया जाएगा. उन्होंने न्यायालयों में चल रहे मामलों में भी जीत मिलने की उम्मीद जताई. साथ ही कांग्रेस और इंडी गठबंधन के लोगों को चेतावनी भी दी कि मातृ शक्ति का अपमान करने वालों को पूरा देश सबक सिखाने के लिए तैयार है.

मुख्यमंत्री योगी ने वर्तमान सांसद और भाजपा की ओर से लोकसभा प्रत्याशी हेमा मालिनी के पक्ष में प्रचार किया. उन्होंने इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 10 साल के कार्यकाल की उपलब्धियां भी गिनाईं. मुख्यमंत्री योगी ने वर्तमान सांसद हेमा मालिनी को तीसरी बार प्रतिष्ठित मथुरा सीट से नामांकन के लिए शुभकामनाएं दी.

उन्होंने कहा कि तीसरी बार हेमा जी यहां से प्रत्याशी बनी हैं तो दूसरी पार्टियों के पास प्रत्याशी ढूंढे नहीं मिल रहे. उन्हें उधार में प्रत्याशी लेने पड़ रहे हैं और जब उधार में भी नहीं मिल रहे तो कांग्रेस के नेता अपना आपा खो चुके हैं. मातृ शक्ति पर अपमानजनक टिप्पणी करके आधी आबादी का अपमान करने पर उतारू हो चुके हैं.

उन्होंने कहा कि मथुरा कला की भूमि है. भगवान कृष्ण ने 16 कलाओं के साथ यहीं पर अवतार लिया है. कला का सम्मान करने के लिए इससे अच्छी भूमि कौन हो सकती है. इसलिए भारत की सुविख्यात सिने अदाकारा, जिन्होंने अपनी कला और प्रतिभा के माध्यम से भारत की संस्कृति और सभ्यता को वैश्विक मंच पर स्थापित करने में पूरा जीवन लगा दिया हो, इनके मंचन को देखने के लिए दुनियाभर के लाखों लोग जुटते हैं, इसका सम्मान कौन भारतीय नहीं करेगा, यदि यह भी कांग्रेसियों को बुरा लगता है, तो उन्हें भगवान भी बचा पाएगा या नहीं, इस पर संदेह होता है.

सीएम योगी ने सवाल किया कि 60 साल तक सत्ता में रहने वाली कांग्रेस ने काशी, मथुरा और अयोध्या में विकास क्यों नहीं किया. हेमा मालिनी जी के सुझाव पर मथुरा, वृंदावन, बरसाना, गोकुल, बलदेव का विकास ब्रज तीर्थ विकास परिषद के माध्यम से सुनिश्चित किया गया है.

विकेटी/एबीएम