प्रशासन कोरोना महामारी से प्रभावित लोगों की सहायता देने के लिए तैयार : जिला प्रोवेशन अधिकारी

कुशीनगर| उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में कोरोना ने बहुत से परिवारों से उनकी खुशियाँ हमेशा-हमेशा के लिए छीन ली हैं, जिन परिवार में कल तक किलकारियां गूंजा करतीं थीं, आज उसी घर में बच्चे गुमशुम नजर आ रहे हैं . ऐसे ही बच्चों के जीवन में फिर से खुशियाँ लाने की हरसंभव कोशिश में सरकार जुटी है . जिन बच्चों ने कोरोना के चलते अपने माता-पिता को खोया है, उनकी चिंता सरकार को है और अब ऐसे बच्चों और परिवार की पहचान कर उन्हें हरसंभव मदद पहुंचाने की तरफ कदम बढ़ाया गया है . इसके अलावा ऐसे बच्चे जिनके माता-पिता कोरोना को मात देने के लिए अस्पताल में भर्ती हैं या होम आइसोलेशन में हैं और बच्चे की देखभाल करने वाला परिवार में कोई नहीं है, उन बच्चों के संरक्षण पर भी पूरा ध्यान है . ऐसे बच्चों के संदर्भ में महिला कल्याण विभाग ऊ०प्र० द्वारा संज्ञान लेकर उन्हें उचित तरीके से पुनर्वासन एवं महिला कल्याण की लाभकारी योजनाओं से लाभान्वित करने का प्रयास है! उक्त के सम्बन्ध में जिला प्रोबेशन अधिकारी  विजय कुमार पांडेय ने जानकारी देते हुए बताया है कि सभी जनमानस से अनुरोध किया है कि कोविड महामारी के कारण निराश्रित हुए ऐसे बच्चे जिनकी आयु 18 वर्ष से कम है तथा ऐसे बच्चों की देखभाल करने वाला कोई नहीं है.  ऐसे बच्चों की सूचना निम्न नंबरों पर उपलब्ध कराया जाए ताकि यथोचित कार्यवाही की जा सके .

1. दिपाली सिन्हा- अध्यक्ष बाल कल्याण समिति- 8052588881 2. विनय कुमार शर्मा- बाल संरक्षण अधिकारी- 9918569509 3. प्रतिभा सिंह- महिला कल्याण अधिकारी – 7054364810 4. मोहन गुप्ता- चाइल्ड लाइन- 708637414, 9453836815

Check Also

फ्रेट कॉरिडोर पर यह काम कोविड से जुड़ी चुनौतियों के बावजूद आगे बढ़ा

नई दिल्ली (New Delhi) . भारतीय रेल के सार्वजनिक उपक्रम, डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर कॉरपोरेशन ऑफ …