जयपुर, 3 अप्रैल . राजस्थान के कुछ पूर्व विधायक और विभिन्न राजनीतिक दलों के पूर्व सांसद सहित लगभग 314 नेता बुधवार को जयपुर में पार्टी मुख्यालय में भाजपा में शामिल हो गए.

भाजपा की राज्य सह-प्रभारी विजया रहाटकर ने इस अवसर पर कहा, “राज्य के प्रत्येक वर्ग के लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विजय रथ को आगे बढ़ाने के लिए एक साथ खड़े हैं. सभी को पीएम मोदी की नीतियों पर भरोसा है.”

विजया रहाटकर ने कहा, “राज्य की जनता ने तीसरी बार राजस्थान की सभी 25 सीटों पर भाजपा को विजयी बनाने का फैसला किया है.”

ज्वाइनिंग कमेटी के संयोजक अरुण चतुर्वेदी ने पार्टी में शामिल हुए नए लोगों का स्वागत किया. इस मौके पर उन्होंने कहा, “कांग्रेस पूरी तरह से नेतृत्वविहीन हो गयी है. आज समाज के हर वर्ग को यह नजर आने लगा है कि कांग्रेस एक डूबती हुई नाव है, इसलिए सभी नेता कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हो रहे हैं.”

पीएम नरेंद्र मोदी ‘राष्ट्र प्रथम’ की नीति पर चलकर देश को शीर्ष पर ले जा रहे हैं, जबकि कांग्रेस देश को बांटने का काम कर रही है.

गंगानगर के पूर्व सांसद और कांग्रेस नेता शंकर पन्नू ने भाजपा में शामिल होने के बाद कहा, ”मैंने लंबे समय तक कांग्रेस में काम किया, लेकिन आज कांग्रेस में कार्यकर्ताओं की कोई सुनने वाला नहीं है. भाई-भतीजावाद की राजनीति है. इसीलिए आज कांग्रेस में कोई काम नहीं करना चाहता. आने वाले समय में कांग्रेस पार्टी पूरी तरह से विलुप्त हो जाएगी.”

पूर्व विधायक नंद किशोर महरिया ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण करने के बाद कहा, “हमारे परिवार की विचारधारा भाजपा से जुड़ी रही है. राज्य की भजनलाल सरकार ने शेखावाटी में लंबे समय से चली आ रही पानी की समस्या का समाधान यमुना जल समझौते के जरिए किया. इसीलिए आज महिलाएं, युवा, व्यापारी, बुजुर्ग और किसान सभी वर्ग भाजपा के साथ हैं. लोकसभा चुनाव में हम प्रदेश की सभी 25 सीटें भारी अंतर से जीतेंगे.”

भाजपा में बुधवार को शामिल होने वालों में विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रधान, जिला परिषद सदस्य और पंचायत समिति सदस्य भी शामिल थे.

एफजेड/