अभिषेक बनर्जी की पत्नी ने खटखटाया दिल्ली हाईकोर्ट का दरवाजा

नई दिल्ली (New Delhi) . तृणमूल कांग्रेस के महासचिव अभिषेक बनर्जी की पत्नी रुजीरा बनर्जी ने दिल्ली हाईकोर्ट में कोयला तस्करी के एक मामले में उस आदेश को चुनौती दी है, जिसमें उन्हें 12 अक्टूबर को पेश होने का निर्देश दिया गया था. न्यायमूर्ति योगेश खन्ना के समक्ष मामले की सुनवाई बुधवार (Wednesday) को सूचीबद्ध की गई है. यह सुनवाई 8 अक्टूबर तक के लिए इसलिए स्थगित कर दी गई क्योंकि संबंधित पीठ बुधवार (Wednesday) को इकट्ठा नहीं हुई थी. संबंधित पीठ इस मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा दंपति को कई समन को चुनौती देने वाली याचिका की भी जांच कर रही है. याचिका में पटियाला हाउस जिला न्यायालय के मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट द्वारा 18 सितंबर और 30 सितंबर के आदेश को रद्द करनने की मांग की गई है. कोर्ट ने अभिषेक बनर्जी की पत्नी की व्यक्तिगत उपस्थिति के लिए सम्मन जारी किया गया था. याचिका में कहा गया है कि उसके खिलाफ ईडी की शिकायत झूठी, दुर्भावनापूर्ण और परेशान करने वाली होने के कारण अलग रखी जानी चाहिए.

रिकॉर्ड का अवलोकन करने से पता चलता है कि ईडी द्वारा लगाए गए आरोप प्रतिशोध की भावना से प्रेरित है. इसलिए इसे खारिज किया जाना चाहिए. 30 सितंबर, 2021 को रुजीरा बनर्जी आभाषी मध्यम से कोर्ट में पेश हुई थीं. उन्होंने दिल्ली की यात्रा करने में असमर्थता जताई थी. इसके बाद अदालत ने उन्हें 12 अक्टूबर व्यक्तिगत तौर पर पेश होने का निर्देश दिया. अदालत ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की शिकायत पर उन्हें सम्मन जारी किया था, जिसमें उनके सामने पेश नहीं होने के लिए वारंट जारी करने की मांग की गई थी. ईडी की ओर से पेश सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने अभिषेक बनर्जी और रुजीरा बनर्जी द्वारा ईडी समन को चुनौती देने वाली याचिका का कड़ा विरोध किया था. इस मामले में अभिषेक बनर्जी का प्रतिनिधित्व वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल ने किया था.

Check Also

रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर लोगों से ठगी करने वाले गिरोह का भंडाफोड़

नई दिल्ली (New Delhi) . दिल्ली पुलिस (Police) ने रेलवे (Railway)में नौकरी दिलाने के नाम …