नाबालिग के अपहरण और दुराचार का मामला

जबलपुर, 22 जनवरी . जिला न्यायालय ने शादी का झांसा देकर नाबालिग का अपहरण करने वालें दुराचार करने वालें आरोपी की जमानत याचिका खारिज कर दी. इसी प्रकार एक अन्य घटना में घर में घुसकर छेड़छाड़ करने वालें आरोपी की जमानत याचिका भी खारिज कर दी. अभियोजन पक्ष के मुताबिक पनागर निवासी आरोपी शुभम उर्पâ गोलू गत 5 मई 2019 को एक लड़की का अपहरण कर शादी का झांसा देकर बरेली (Bareilly) रायसेन ले गया और फिर वहां से लेकर उसे कटनी पहुंचा इस दौरान उसने लड़की के साथ शारीरिक संबंध भी बनायें. पनागर पुलिस (Police) ने धारा 363, 366, 376(2) के तहत एवं 4,5 (आई), 6 पॉस्को का अपराध पंजीबद्ध कर अभियुक्त शुभम उर्फ गोलू रजक को गिरफ्तार कर विशेष न्यायाधीश (judge) (पाक्सो) श्रीमती संगीता यादव के समक्ष पेश किया. शासकीय अधिवक्ता श्रीमति स्मृतिलता बरकड़े द्वारा जमानता का विरोध किया गया. न्यायालय ने तर्को से सहमत होते हुये जमानत आवेदन निरस्त कर दिया.

छेड़छाड़ के आरोपी को नहीं मिली जमानत……….

इसी प्रकार विशेष न्यायाधीश (judge) पाक्सो एक्ट श्रीमति संगीता यादव ने वुंâडम निवासी एक नाबालिग लड़की के घर मे घुसकर छेड़छाड़ करने वालें आरोपी की जमानत याचिका खारिज कर दी है. अभियोजन पक्ष के मुताबिक आरोपी महेन्द्र और सतेन्द्र ने नाबालिग लड़की के साथ गलत नियत से छेड़छाड़ की और जब लड़की चिल्लाई तो उसके मुंह में कपड़ा ठूंस दिया और उसके कपड़े फाड़ दिया और आँख में उंगुली मार कर भाग गये. 11 जनवरी को जब गांव में पंचायत बुलाई तो आरोपियों ने पीड़िता के परिवार के साथ मारपीट की. कुडंम पुलिस (Police) ने फरियादी की उक्त रिपोर्ट पर धारा 354, 354(प), 354(2), 354(इ), 323, 457, 34 के तहत एवं 8 पॉस्को का अपराध पंजीबद्ध कर आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया, जहां उनकी जमानत याचिका खारिज कर दी गई. आवेदन की तरफ से श्रीमति स्मृतिलता बरकड़े ने शासन के समक्ष पक्ष रखा.

Check Also

शातिरों ने एक क्विंटल से ज्यादा वजन के नट-बोल्ट चुराए, बेचने से पहले गिरफ्तार

चंडीगढ़ (Chandigarh) . चंडीगढ़ (Chandigarh) में दो शा‎तिरों ने एक क्विंटल से ज्यादा वजन के …