कतर की जेल में बंद 8 पूर्व नौसैनिकों की रिहाई, 7 भारत लौटे (लीड-1) – indias.news

नई दिल्ली, 12 फरवरी . भारत को एक बड़ी राजनयिक जीत मिली है. कतर की जेल में बंद भारत के पूर्व नौसैनिकों को रिहाई मिल गई है. इन 8 पूर्व भारतीय नौसैनिकों को 18 महीने बाद कतर की जेल से रिहा किया गया है.

अभी कुछ महीने पहले ही इन पूर्व नौसैनिकों को मौत की सजा सुनाई गई थी. भारत सरकार के प्रयासों के बाद इनकी सजा ‘कैद’ में तब्दील की गई और अब इन्हें रिहा कर दिया गया है.

इस संबंध में विदेश मंत्रालय ने सोमवार को एक बयान जारी किया जिसमें कहा गया कि इन 8 में से 7 भारत लौट चुके हैं.

गौरतलब है कि इससे पहले भारत सरकार के प्रयासों के चलते ही इसी वर्ष जनवरी में इन पूर्व नौसैनिकों की मौत की सज़ा को अलग-अलग अवधि को करावास में बदल दिया गया था.

विदेश मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा, “भारत सरकार इन आठ भारतीय नागरिकों की रिहाई का स्वागत करती है जो दाहरा ग्लोबल कंपनी के लिए काम कर रहे थे और जो क़तर में हिरासत में थे. आठ में से सात लोग भारत लौट चुके हैं. इन नागरिकों की रिहाई और घर वापसी को लेकर कतर के अमीर द्वारा लिए गए फ़ैसले का हम स्वागत करते हैं.”

गौरतलब है कि यह सभी आठ भारतीय कतर में एक निजी सुरक्षा कंपनी अल दहरा के कर्मचारी थे. इनको कथित तौर पर जासूसी के आरोप में कतर ने 26 अक्टूबर को मौत की सजा सुनाई थी. तब नौसेना प्रमुख ने कहा था कि केंद्र सरकार आठों कर्मियों की मदद के लिए हर संभव प्रयास कर रही है.

भारतीय नौसेना का कहना था कि केंद्र सरकार द्वारा यह सुनिश्चित करने के लिए हर संभव प्रयास किया जा रहा है कि इन आठों व्यक्तियों को राहत मिले.

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने इन सभी पूर्व नौसैनिकों के परिवारों से मुलाकात भी की थी. उनका कहना था कि सरकार मामले को सर्वोच्च महत्व देती है. परिवारों की चिंता और दर्द को समझती है. साथ ही भारत सरकार इनकी रिहाई सुनिश्चित करने के लिए सभी प्रयास कर रही है.

जीसीबी/