एयर इंडिया के कर्मचारियों की मांगें पूरी,हड़ताल खत्म

मुंबई, 09 नवंबर (उदयपुर किरण). मुंबई एयरपोर्ट पर एयर इंडिया के ग्राउंड स्टाफ की हड़ताल समाप्त हो गई है. एयर इंडिया प्रशासन ने हड़तालियों की प्रारंभिक माने मांग मान ली हैं. आने वाले 15 नवंबर से यहां काम कर रही महिलाओं को रात के नौ बजे के बाद घर तक ड्राप मिलेगा. इसके साथ ही एयरइंडिया ने बोनस की मांग को स्वीकारते हुए कर्मचारियों को तत्काल प्रभाव से बोनस दे दिया है.

ग़ौरतलब है कि दीपावली का बोनस न मिलने और अपनी दूसरी समस्याओं को लेकर परेशान एयर इंडिया के कर्मचारी लक्ष्मीपूजन के दिन अचानक हड़ताल पर चले गए. अचानक हुई इस हड़ताल से चेक इन काउंटर्स बंद हो गए इससे लंबी लाइन लग गई. इस हड़ताल से हजारों यात्रियों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा. एयरइंडिया प्रशासन ने मामले को संभालने के लिए अपने दूसरे स्टॉफ को काम पर लगा दिया पर चार सौ लोगों की के काम न करने से लोग परेशान दिखे.मुंबई एयरपोर्ट पर कार्गो, साफ-सफाई और सामान चढाने-उतारने जैसे काम करने वाले लगभग 1600 कर्मचारियों को एयर इंडिया से बोनस नही मिला है. इस से नाराज इन कर्मचारियों ने बुधवार रात 10 बजे से शुरू कर दी थी. भारतीय कामगार सेना के सचिव संतोष कदम ने बताया कि कर्मचारी पिछले कुछ समय विविध मांगों को लेकर प्रशासन से मांग कर रहे थे. पर प्रशासन ने इस तरफ कोई ध्यान नहीं दिया. आखिर दीपावली की रात को इनका धैर्य समाप्त हो गया और कर्मचारी हड़ताल पर चले गए. हड़ताल को जोर पकड़ता देख एयरइंडिया ने बातचीत करने के लिए दिल्ली से कैप्टन ए.के. शर्मा को भेजा. गुरूवार को लेबर कमिश्नर के सामने महासचिव संतोष चालके, सचिव संतोष कदम, सचिव संजय कदम और एयरपोर्ट कमेटी के सदस्य अमोल कदम के साथ मीटिंग के बाद कर्मचारियों की लगभग सभी मांगें मान ली हैं. इन मांगों पर व्यापक रूप से चर्चा करने के लिए 15 नवंबर को एक बार फिर बैठक होगी. एयरइंडिया कर्मचारियों से बातचीत करने के लिए दिल्ली से आए कैप्टन ए.के. शर्मा ने कर्मचारियों की समस्याओं पर सकारात्मक रुख दिखाते हुए उन्हें तत्काल प्रभाव से बोनस दे दिया. इसके साथ ही उन्होंने लिखित रूप से आश्वासन दिया कि आने वाले 15 नवंबर से रात के नौ बजे के बाद काम करने वाली महिलाओं को घर तक छोडऩे का इंतजाम किया जाएगा. इसके साथ ही मनमानी तरह से जिन कर्मचारियों को काम से हटा दिया गया था, उन्हें तत्काल वापस नौकरी पर बुलाया गया है. इसके साथ ही इंक्रीमेंट और प्रमोशन जैसी कुछ अन्य मांगों पर 15 नवंबर को विस्तार से चर्चा की जाएगी.
हिन्दुस्थान समाचार/रीमा/राजबहादुर

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*