नेपाली पुलिस के सुपुर्द किए गए बिना वीजा के भारत में घुसे चीनी नागरिक

बहराइच, 09 नवम्बर (उदयपुर किरण). बिना वीजा के भारतीय सीमा में घुसे चीनी नागरिकों को नेपाल पुलिस के हवाले कर दिया गया है. सुरक्षा एजेंसियों द्वारा पूछताछ व इनके अभिलेखों की जांच-पड़ताल से इनकी गतिविधि संदिग्ध नहीं पाई गई. अधिकारियों ने पूछताछ के बाद सभी चीनी नागरिकों को नेपाली पुलिस के सुपुर्द कर दिया. सभी चीनी नागरिक चीन के हुआंन शहर के रहने वाले हैं.

बुधवार को बिना वीजा के चीनी नागरिक नेपाली गाइड ऊधव के साथ भारत-नेपाल सीमा पार करते हुए आ रहे थे. इनमें दो महिलाएं भी शामिल थीं. इसी दौरान सशस्त्र सीमा बल की सर्च पार्टी ने सभी को बार्डर पोस्ट के पहले रोक लिया. इन चीनी नागरिकों के पास नेपाल का वीजा तो पाया गया, लेकिन भारत का वीजा नहीं मिला. इस कारण इन सभी को रुपईडीहा थाने पर पाया गया और उच्चाधिकारियों को इसकी सूचना भी दी गई. यह सभी चीनी नागरिक हिंदी व अंग्रेजी भाषा नहीं जानते थे, इसलिए स्थानीय स्तर पर द्विभाषीय का प्रबंध किया गया और उनके माध्यम से पूछताछ किया गया. पूछताछ में जानकारी हुई कि यह सभी नेपाल के भ्रमण पर आए थे. एक नवम्बर से नेपालगंज के होटल गैलेक्सी दरबार में ठहरे हुए थे.

एसपी डॉ. गौरव ग्रोवर ने बताया कि इन चीनी नागरिकों की सात नवम्बर को काठमांडू की वापसी फ्लाइट थी, लेकिन यह सभी लोग मंदिर दर्शन के बाद सीमा तक घूमने चले आए और भारत की सीमा में प्रवेश कर गए. एसएसबी के जवानों द्वारा इन्हें रोका गया. सभी चीनी नागरिकों को फारेस्ट गेस्ट हाउस में ठहराया गया. उनकी सुरक्षा की समुचित व्यवस्था भी की गई. खुफिया एजेंसी, स्थानीय अभिसूचना इकाई, विशेष अभिसूचना अधिकारी, विशेष शाखा अभिसूचना विभाग द्वारा पूछताछ की गई. इनके दस्तावेजों की जांच-पड़ताल की गई. पूछताछ व जांच-पड़ताल से इनकी गतिविधियां संदिग्ध नहीं पाई गई हैं.

एसपी ने बताया कि पूछताछ व जांच-पड़ताल के बाद भारतीय सीमा में घुसे अलियन शुआई, हई जैनचुआन, जिंग एक्सीगुआंग, मंग यनलिंग, ली क्विंगक्विंग, ली बिन व नेपाली गाइड को नेपाल पुलिस के सुपुर्द कर दिया गया है. नेपाल से वे सभी चीन के लिए रवाना होंगे.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*