सुहाग की सेज पर बैठी रही रूहिना मगर पति नहीं आया, जाने कब मिला तीन तलाक

जोधपुर, 06 नवम्‍बर (उदयपुर किरण). जिस पिता ने अपने बेटी को खुशी खुशी घर से निकाह कर विदा किया. उसे क्या मालूूम था कि उसके खिलाफ ससुराल वाले पहले से ही षडयंत्र रचे हुए है. वह रात भर सुहाग की सेज पर बैठी रही मगर पति नहीं आया. पति ने अपने घर वालों के साथ मिलकर ना सिर्फ उदयमंदिर थाने में खुद की फर्जी गुमशुदगी रिपोर्ट दी बल्कि तीन तलाक का कागज भी कुछ दिन बाद थमा दिया. हालांकि तीन तलाश कानून पर अब भी कोर्ट में कुछ शर्तों पर सुनवाई जारी है. यह मामला शहर की एक मुस्लिम महिला के साथ घटित हुआ है जो पांच माह से पीहर में ही बैठी है. अब उसने अदालत से इस्तगासा कर प्रतापनगर थाने में सोमवार को इसकी रिपोर्ट दी है. मुस्लिम महिला अध्यादेश में दर्ज इस प्रकरण की जांच एसआई मुकनदान की तरफ से की जा रही है.

दरअसल चांदणा भाखर के देवी रोड 11 के -444 की रहने वाली रूहिना का निकाह इसी साल 4 जुलाई मुस्लिम रीति रिवाज से शहजद खां के साथ हुआ था. 5 जुलाई को पिता अब्दुल सलीम ने रिशेप्सन रखा था. 6 जुलाई को रूहिना अपने ससुराल पहुंची थी. तब रात में उसके ससुराल वालों ने उसे सेज पर भेज दिया और कहा कि जब वे ना कहे बाहर मत आना. इस पर रूहिना रात 12 बजे तक सेज पर बैठी रही मगर उसका पति शहजाद नहीं आया. उसकी रात उसके ससुराल वालों ने मिलकर उसके पति शहजाद की गुमशुदगी की रिपोर्ट उदयमंदिर थाने में दर्ज करवा दी और उसे पति के बाहर होने की जानकारी दे दी. इस मामले में उसके ससुर शेर मोहम्मद, सास हसीना के अलावा चार अन्य लोग शामिल रहे, ऐसा रिपोर्ट में बताया गया.

रूहिना ने पुलिस को दी रिपोर्ट में बताया कि निकाह के कुछ दिन बाद ही उसे कोर्ट से एक नोटिस मिला. इसमें तीन तलाक का जिक्र किया गया. उसे ससुराल वालों ने धमकी कि तेरे परिवार को ऐसा सबक सिखाएंगे कि याद रखेंगे. ससुराल वालों ने खुद को ऊंची रसूखात वाला होना बताया. प्रतापनगर पुलिस ने रूहिना की रिपोर्ट पर मामला दर्ज किया है. अनुसंधान एसआई मुकनदान की तरफ से की जा रही है.

http://udaipurkiran.in/hindi

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*