सूटा के असंवैधानिक घोषित होने के बाद सुखाडिय़ा विश्वविद्यालय शैक्षिक संघ का गठन

उदयपुर, 16 अक्टूबर (उदयपुर किरण). मोहनलाल सुखाडिय़ा विश्वविद्यालय के शिक्षकों द्वारा मोहनलाल सुखाडिय़ा विश्वविद्यालय शैक्षिक संघ का गठन किया गया है जिसकी संबद्धता अखिल भारतीय राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ से रहेगी.

अखिल भारतीय राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के राष्ट्रीय संगठन मंत्री महेंद्र कपूर और संयुक्त मंत्री डॉ. नारायणलाल गुप्ता की उपस्थिति में कार्यकारिणी की घोषणा की गई, जिसके अंतर्गत प्रो. दिग्विजय भटनागर को अध्यक्ष, डॉ. ज्योति चौधरी एवं डॉ. आशीष सिसोदिया उपाध्यक्ष, डॉ. बालूदान बारहठ को महामंत्री, डॉ. राजश्री चौधरी एवं डॉ. अजीत कुमार भाबोर को संयुक्त मंत्री और डॉ. सचिन गुप्ता को कोषाध्यक्ष का दायित्व दिया गया.

राष्ट्रीय संगठनमंत्री महेंद्र कपूर ने बताया कि भारत के विभिन्न विश्वविद्यालयों में अखिल भारतीय राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ अपनी इकाइयों के माध्यम से शिक्षिकों के हित में कार्य कर रहा है. नवनियुक्त अध्यक्ष प्रो. दिग्विजय भटनागर ने कहा कि मोहनलाल सुखाडिय़ा विश्वविद्यालय शैक्षिक संघ सभी शिक्षकों के पारस्परिक सहयोग से विश्वविद्यालय के उत्थान के लिए कार्य करता रहेगा.

महामंत्री डॉ. बालूदान बारहठ ने बताया कि सूटा के असंवैधानिक घोषित होने के बाद विश्वविद्यालय में शिक्षकों का कोई संगठन नहीं था. इस कारण से मोहनलाल सुखाडिय़ा विश्वविद्यालय शैक्षिक संघ का गठन किया गया जिसके 135 से अधिक शिक्षक सदस्य हैं.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*