श्मसान घाट पहुंची पुलिस, अर्थी से शव उठाकर भेजा पोस्टमार्टम के लिए

झांसी, 14 सितम्बर (उदयपुर किरण). बड़ागांव थाना क्षेत्र में गणेश पण्डाल की लाइट लगाते वक्त एक युवक को करंट लग गया और अस्पताल ले जाते समय उसकी मौत हो गई. श्मशान घाट पर शुक्रवार को उसका अंतिम संस्कार हो रहा था तभी मृतक की मौसी और मामा ने थाने पहुंचकर मौत की कहानी पर सवाल खड़े कर दिए. इस पर श्मशान पहुंची पुलिस ने अर्थी से शव निकालकर पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया. एसएसपी ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं.
पारीछा क्षेत्र निवासी शशांक भदौरिया हाईस्कूल का छात्र था. बचपन में उसे एक रिश्तेदार द्वारा गोद लिया गया था और वह वहीं रह रहा था. बीते रोज शशांक क्षेत्र में विराजमान गणेश पंडाल में लाइट लगा रहा था, तभी करंट लगने से उसकी मौत हो गई. आज उसका श्मशान घाट में अंतिम संस्कार किया जा रहा है. तभी मृतक के मामा, मौसी व चचेरा भाई पुलिस के साथ श्मशान घाट पहुंचे और जो कहानी बयां की, उसने सभी के होश उड़ा दिए.
इन्होंने आरोप लगाया कि उसकी मौत आक्सीजन का सिलेंडर खाली होने की वजह से हुई है और इसकी जांच कराये जाने के लिए शव का पोस्टमार्टम कराया जाये. आरोपों को संज्ञान में लेते हुए पुलिस ने आनन-फानन में शव को अर्थी से उठाकर तिपहिया वाहन से पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में तैनात डा. वीके गुप्ता ने बताया कि सिलेंडर खाली होने जैसी कोई बात नहीं है. शशांक को काफी गम्भीर हालत में लाया गया था जिसके बाद उसे मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया था.
मामले की जानकारी एसएसपी विनोद कुमार को हुई तो उन्होंने बड़ागांव पुलिस को मृतक के परिजनों द्वारा दिये गए शिकायती पत्र के आधार निष्पक्ष जांच कराये जाने के आदेश दिए.

Report By Udaipur Kiran

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*