सीएम योगी का चित्रकूट दौरा टलने से अधिकारियों में खुशी, जनता में मायूसी

चित्रकूट, 14 सितम्बर (उदयपुर किरण). उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का धर्म नगरी चित्रकूट में प्रस्तावित दौरा आखिरकार टल गया जिससे कई दिनों से कई दिनों से आसपास के गांवों को चमकाने में जुटे अधिकारियों ने राहत की सांस ली. दूसरी तरफ विकास की आस लगाये बैठी क्षेत्र की जनता में सीएम का दौरा रद्द होने से मायूसी छा गई है. चित्रकूट जिले में सीएम योगी का दौरा 16 को प्रस्तावित था.

भगवान श्रीराम की तपोभूमि होने के कारण धर्म नगरी चित्रकूट का विकास केंद्र और प्रदेश की सत्ता पर काबिज भाजपा सरकार के एजेंडे में है. इसके बावजूद प्रदेश के सबसे पिछड़े जिलों में शामिल चित्रकूट में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का तीसरा दौरा लगने की खबर से जिले के अफसरों की सांस फूल रही थी. जिले की बेहद खराब प्रगति को लेकर भी कई अधिकारी गाज गिरने को लेकर भी आशंकित थे. गुरुवार की रात सीएम योगी का चित्रकूट दौरा रद्द होने की खबर आते ही जिले के अधिकारियों में खुशी की लहर दौड़ गई. सीएम के कार्यक्रम को लेकर जिले में पूरी रूपरेखा तैयार कर ली गई थी. जैसे-जैसे दौरे के दिन नजदीक आते रहे, अधिकारियों की धड़कनें भी तेज हो रहीं थी. भोजन-पानी छोड़ अफसर कोलगदहिया गांव को शासन की महत्वाकांक्षी योजनाओं से संतृप्त कर चमकाने में लगे हुए थे.

सीएम योगी के दौरे को लेकर मुख्यालय से सटे कोलगदहिया व लोढ़वारा गांव में प्रशासनिक अमला कई दिनों से जमा हुआ था. अफसर रात-दिन शौचालय, प्रधानमंत्री आवास, नाली, खड़ंजा बनवाने में जुटे रहे. ग्रामीण भी हैरत में हैं कि उनके गांव की सूरत अचानक से कैसे बदलने लगी. कारण पता चलते ही लोढवारा गांव के हीरालाल, ओमप्रकाश, रवि सिंह, हरीमोहन आदि ग्रामीणों की जुबान पर बस यही चर्चा थी कि काश.. हमारे गांव मुख्यमंत्री बार-बार आते रहे. जिलाधिकारी विशाख जी ने बताया कि फिलहाल मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का दौरा अभी रद्द हो गया है.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*