हिन्दुस्तान जिंक से कैल्साइन चोरी का खुलासा, 3 आरोपी पकड़े, 10 लाख का माल जब्‍त

चित्‍तौड़गढ. चित्तौड़गढ़ के पुठोली जिंक प्लांट से पिछले कई समय से कैल्साइन चोरी की खबरें मिलने के जिंक के अधिकारियों ने मामले की जानकारी पुलिस (Police) विभाग को दी.जिस पर पुलिस (Police) कप्तान दीपक भार्गव के निर्देश पर अतिरिक्त्त पुलिस (Police) अधीक्षक हिम्मत सिंह देवल के नेतृत्व में चंदेरिया थाना प्रभारी अनिल जोशी सदर थाना प्रभारी दर्शन सिंह और विशेष शाखा प्रभारी शिव लाल मीणा के नेतृत्व में रेकी करके आज सिरोड़ी गांव में एक बंद पड़े गोदाम पर छापा मारा.

जहाँ एक बलकर और एक ट्रैक्टर ट्रॉली की तलाशी ली तो उसमें जिंक प्लांट में सप्लाई होने वाला कैल्साइन भरा हुआ था.गोदाम की तलाशी के दौरान 350 कट्टो में भरा कैल्साइन भी अपने कब्जे में लिया. मौके से पुलिस (Police) ने मोहब्बत सिंह निवासी कांकरिया कन्हैया लाल कुमावत निवासी बनाकिया और सुरेश कुमावत को गिरफ्तार किया.

पुलिस (Police) ने मौके पर ही जिंक के अधिकारियों को बुलाया जिन्होंने जब्त माल कैल्साइन होने की पुष्टि करते हुए बताया की ये जिंक प्लांट में मंगवाया जा रहा था जो लंबे समय से इन लोगो द्वारा चुराया जा रहा था. जिंक अधिकारियों ने इस जब्त माल की कीमत 10 लाख रुपये बताई है. गिरफ्तार आरोपियों ने बताया कि मुख्य आरोपी महेंद्र गिरी और प्रभु लाल कुमावत दोनों मिलकर बलकर चालको से मिली भगत कर के माल चुरा कर इसे कहि और बेच कर मोटा मुनाफा कमाते है.

Check Also

कोरोना का कहर : दो भाइयों सहित 7 की मौत

उदयपुर (Udaipur). जिले में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है, वहीं …