कोरोना संकट के बीच 15वें जी-20 शिखर सम्मेलन की शुरुआत


नई दिल्ली (New Delhi) . कोरोना संकट के बीच 15वें जी-20 शिखर सम्मेलन की शुरुआत शनिवार (Saturday) को हो गई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) भी इस शिखर सम्मेलन में वर्चुअल शिरकत की. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी इस सम्मेलन में शामिल हो रहे हैं. सम्मेलन की अध्यक्षता सऊदी अरब के किंग सलमान ने की.

सऊदी अरब के किंग सलमान ने अपनी शुरुआती भाषण में कहा, “हमारा कर्तव्य है कि हम इस शिखर सम्मेलन के दौरान चुनौती का सामना करें तथा आशा और आश्वासन का एक मजबूत संदेश दें. कोविड-19 (Covid-19) महामारी (Epidemic) से एक अभूतपूर्व झटका लगा है जिसने कुछ ही समय में पूरी दुनिया को प्रभावित कर डाला, जिससे वैश्विक स्तर पर आर्थिक और सामाजिक नुकसान हुआ है.”

शिखर सम्मेलन को ‘सभी के लिए 21वीं सदी के अवसरों का एहसास’ विषय पर आयोजित किया जा रहा है. 21-22 नवंबर तक चलने वाला यह दो दिवसीय शिखर सम्मेलन वर्चुअल हो रहा है. जी-20 देशों के नेताओं की इस साल यह दूसरी बैठक है. इससे पहले इसी साल मार्च में बैठक हुई थी. आज से शुरू हो रहे जी-20 शिखर सम्मेलन का फोकस कोरोना महामारी (Epidemic) के प्रभावों, भविष्य की स्वास्थ्य सुरक्षा योजनाओं और वैश्विक अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने के कदमों पर होगा.

व्हाइट हाउस ने भी ऐलान किया है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप शनिवार (Saturday) और रविवार (Sunday) को वर्चुअल तरीके से होने वाले जी-20 शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे. दुनियाभर के नेता कोविड-19 (Covid-19) महामारी (Epidemic) को रोकने की कोशिश कर रहे हैं और इसी बीच यह शिखर सम्मेलन आयोजित किया जा रहा है.

Check Also

US में 12 दिसंबर को लग सकता है पहला टीका

नई दिल्‍ली . कोरोना महामारी (Epidemic) के सबसे बड़े शिकार अमेरिका में कोरोना वैक्सीन कार्यक्रम …