सुंदर और ठाकुर ने 7वें विकेट के लिए बनाये सबसे ज्यादा रन

तोड़ा 30 साल पुराना रिकार्ड टूटा

ब्रिसबेन . भारत के वाशिंगटन सुंदर और शार्दुल ठाकुर ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चौथे और अंतिम क्रिकेट टेस्ट मैच में सातवें विकेट के लिए 67 रन बनाने के साथ ही 30 साल पुराना एक रिकार्ड तोड़ दिया. मैच के तीसरे दिन सुंदर और ठाकुर की जोड़ी ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए तीसरे दिन 67 रन बनाते ही पूर्व कप्तान कपिल देव और मनोज प्रभाकर के रिकार्ड को तोड़ा. कपिल और प्रभाकर ने 30 साल पहले सन् 1991 में साततें विकेट के लिए 58 रन जोड़े थे. सुंदर और ठाकुर के बीच सातवें विकेट के लिए 123 रनों की साझेदारी हुई. ये जोड़ी तब टूट गई जब भारत का स्कोर 309 पर था और ठाकुर कमिंस की गेंद पर बोल्ड हो गए. लेकिन इससे पहले ठाकुर ने शानदार पारी खेलते हुए 115 गेंदों पर 9 चौके और 2 छक्के लगाकर 67 रन बनाए. वहीं सुंदन ने 62 रन बनाये.

गाबा में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 7वें विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी
वाशिंगटन सुंदर और शार्दुल ठाकुर 123 (2021)
कपिल देव और मनोज प्रभाकर 58 (1991)
एमएस धोनी और रविचंद्रन अश्विन 57 (2014)
मनोज प्रभाकर और रवि शास्त्री 49 (1991)
एम. एल. जयसिम्हा और बापू नाडकर्णी 44 (1968)
इसी के साथ ही ऑस्ट्रेलिया में 100 रनों से ज्यादा की साझेदारी करने के मामले में भी इन दोनों ने बड़ा रिकार्ड बनाया है. इसी के साथ ही इन दोनो ने साल 1991-92 में बनाए गए मोहम्मद अजहरुद्दीन और मनोज प्रभाकर के एडिलेड में बनाए रिकार्ड को तोड़ा जिन्होंने 101 रन बनाए थे.

भारत के लिए ऑस्ट्रेलिया में 7 वें विकेट के लिए 100 से अधिक की साझेदारी
204 ऋषभ पंत और रविंद्र जडेजा सिडनी 2018/19
132 विजय हजारे और एच अधिकारी एडिलेड 1947/48
103 वाशिंग्टन सुंदर और शार्दुल ठाकुर ब्रिसबेन 2020/21
101 मोहम्मद अजहरुद्दीन और एम प्रभाकर एडिलेड 1991/92.

Check Also

केवल जरूरी मामलों की अदालत में होगी सुनवाई : हाईकोर्ट

नई दिल्ली (New Delhi) . राजधानी में कोरोना संक्रमण के बेतहासा बढ़ोतरी को देखते हुए …