श्रीनगर में एक अखबार के संपादक को गोली मारी

राष्ट्रीय » श्रीनगर में एक अखबार के संपादक को गोली मारी

लाल चौक के पास शुजात बुखारी की गोली मारकर हत्या

श्रीनगर . जम्मू-कश्मीर में आतंकियों ने वरिष्ठ पत्रकार शुजात बुखारी की गोली मारकर हत्या कर दी है. बताया जा रहा है कि शुजात पर यह हमला शाम करीब साढे सात बजे श्रीनगर की प्रेस कॉलोनी में किया गया है. इस हमले में शुजात बुखारी और उनके एक निजी सुरक्षाकर्मी की मौत हुई है.

shujat-bukhari बताया जा रहा है कि आतंकियों ने श्रीनगर के लाल चौक के पास शुजात बुखारी और उनके पीएसओ पर शाम करीब साढ़े सात बजे फायरिंग की थी. इस हमले में शुजात और पीएसओ गंभीर रूप से घायल हुए जिसके बाद अस्पताल ले जाने पर चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. इस घटना के बाद श्रीनगर शहर में हाई अलर्ट जारी करते हुए आतंकियों की तलाश की जा रही है.

शुजात बुखारी की हत्या के बाद राज्य की सीएम महबूबा मुफ्ती ने इस घटना पर शोक जताते हुए आतंकियों के हमले को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है. शुजात बुखारी की हत्या के बाद ट्विटर पर अपने संदेश में महबूबा ने लिखा, मैं शुजात बुखारी की हत्या के कारण दुखी हूं. मैं इस हिंसा की निंदा करती हूं और प्रार्थना करती हूं कि मृतक की आत्मा को शांति मिले.

महबूबा मुफ्ती के अलावा केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी शुजात बुखारी की हत्या पर शोक जताते हुए इस हमले की निंदा की है. राजनाथ सिंह ने अपने ट्वीट में लिखा है, राइजिंग कश्मीर अखबार के संपादक शुजात बुखारी की हत्या एक कायरतापूर्ण घटना है. वह एक निर्भीक पत्रकार थे और मुझे उनके निधन का दुख है. मैं उनके परिवार के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त करता हूं.’

वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘मैं राइजिंग कश्मीर के संपादक शुजात बुखारी की हत्या की घटना का समाचार सुनकर दुखी हूं. वह एक बहादुर पत्रकार थे, जिन्होंने हमेशा जम्मू-कश्मीर में न्याय और शांति के लिए लड़ाई लड़ी थी. मेरी संवेदनाएं उनके परिवार के साथ हैं और वह हमेशा याद आते रहेंगे.

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने गुरुवार रात बाइक सवार उन लोगों की तस्वीरें जारी कीं जिन पर राइजिंग कश्मीर के संपादक शुजात बुखारी की हत्या करने का संदेह है.

पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर ये तस्वीरें जारी की हैं. पुलिस को शक है कि इन्हीं बाइक सवारों ने वरिष्ठ पत्रकार बुखारी की हत्या की है. पुलिस ने सूबे की आवाम से अपील की है कि वह इन संदिग्धों की पहचान में मदद करें. पुलिस को इन लोगों पर शक इसलिए है क्योंकि इन्होंने अपने चेहरे ढके हुए थे.



Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*