वीडियो में शिव सेना (यूबीटी) उम्मीदवार के लिए प्रचार करता दिखा मुंबई विस्फोट का दोषी, उपजा विवाद

Photo of author

मुंबई, 9 मई . शिव सेना (यूबीटी) को गुरुवार को उस समय शर्मिंदगी उठानी पड़ी जब कथित तौर पर एक वीडियो में मार्च 1993 के मुंबई सीरियल विस्फोट मामले के एक दोषी के मुंबई उत्तर-पश्चिम सीट से उसके उम्मीदवार के लिए चुनाव प्रचार करने की बात सामने आई.

सोशल मीडिया पर वायरल इस वीडियो में इब्राहिम मूसा उर्फ बाबा चौहान शिव सेना (यूबीटी) के मुंबई उत्तर-पश्चिम उम्मीदवार अमोल जी. कीर्तिकर के लिए वोट मांगते दिख रहा है. अमोल गजानन कीर्तिकर का बेटा है जो महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाली शिव सेना से हैं.

वीडियो के वायरल होने के बाद लोगों की कड़ी प्रतिक्रिया सामने आ रही है जिसमें महा विकास अघाड़ी (एमवीए) उम्मीदवारों पर मुंबई के लोगों के हत्यारे आतंकवादियों का समर्थन करने का आरोप लगाया जा रहा है, और कहा जा रहा है कि “यह लड़ाई (चुनाव) सिर्फ राष्ट्रवादी ताकतों और विभाजनकारी गैंग के बीच नहीं, बल्कि भारत-पाकिस्तान के बीच भी है.”

महायुति गठबंधन की सहयोगी शिव सेना के प्रवक्ता राजू वाघमारे ने कहा कि “यह सब देखकर हिंदू हृदय सम्राट बाला साहेब ठाकरे का हृदय व्यथित हो जाता”. उन्होंने चेतावनी दी कि मुंबई के लोग गद्दारों के साथ मेलजोल रखने वालों को सबक सिखाएंगे.

अंधेरी से भाजपा के विधायक अमित सेठी ने कहा कि आतंकवाद के दोषी ने बुधवार शाम अंधेरी पश्चिम में कीर्तिकर के लिए प्रचार किया.

इब्राहिम मूसा को दिसंबर 1992 से जनवरी 1993 के बीच मुंबई में हुये दंगों के दौरान बॉलीवुड एक्टर संजय दत्त को हथियारों की आपूर्ति और बाद में 12 मार्च को हुए आतंकवादी विस्फोटों के लिए गिरफ्तार किया गया था और दोषी ठहराया गया था.

शिव सेना (यूबीटी) ने अब तक इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है.

एकेजे/