वन विभाग की करोड़ों की जमीन हो गई क्रेशर चालक के नाम

वन विभाग की करोड़ों की जमीन हो गई क्रेशर चालक के नाम

झुंझुनू,15 मार्च (उदयपुर किरण). जिले के बागोरा गांव में करोड़ों की जमीन एक के्रशर चालक के नाम हो गई तथा वन विभाग के अधिकारियों को पता तक नहीं चल पाया. जब इस जमीन पर वन विभाग ने खाई खुदवाई तो पता चला की यह जमीन तो खातेदार के नाम है तथा उन्होंने आरोप एक दूसरे पर लगाने शुरू कर दिए.वन विभाग के अधिकारियों ने कहा कि यह जमीन वन विभाग की ही है तथा चारों तरफ खाई खोदी गई है और चार दीवार भी बनी हुई है तथा पेड़ भी वन विभाग ने ही लगाए हैं.अधिकारियों का कहना है कि अमीन व पटवारी की वजह से यह जमीन खातेदार के नाम चढ गई है. जो गलत तरीके से चढ़ी हुई है.

करोड़ों की जमीन वन विभाग के हाथ से जाने के बाद आज वन विभाग कुंभकरण की नींद से जाग रहा है. जबकि कई लाखों रुपए लगाकर इस जमीन के चारों तरफ चारदिवारी बना दी गई तथा जेसीबी से जमीन पर खाई खुदाई गई. मगर वन विभाग के अधिकारियों को जब पता चला तो उन्होंने इस जमीन में जो खाई खुदवाई है. उसको दुबारा समतल करा दिया है. वहीं वन विभाग के रेंजर का कहना है कि दुबारा जमीन का सीमा ज्ञान करा कर इस जमीन को वन विभाग के अधीन करेंगे.आरोप प्रत्यारोप लगाने से यह जमीन दुबारा क्या वन विभाग के नाम हो जाएगी यह तो आने वाला समय ही बताएगा. मगर प्रशासन पर कई सवाल खड़े हो गए हैं. यदि जमीन वन विभाग की है तो फिर यह जमीन खातेदार के नाम कैसे चढ गई है तथा कहां अमीन व पटवारी से गलती हो गई. लाखों रुपए लगाकर सरकार ने जमीन के चारों तरफ चारदिवारी बनाई तथा पेड़ पौधे लगाए तो उनका क्या औचित्य निकला है. सवाल कई है मगर ना तो वन विभाग के पास जवाब है और ना ही अमीन व पटवारी के पास. अब आने वाला ही समय ही बताएगा कि यह जमीन खातेदार की है या फिर वन विभाग की है. वर्तमान रेंजर श्रवण बाजिया का कहना है कि हमारी जमीन है तो हम दुबारा जमीन का सीमा ज्ञान कराएंगे.


http://udaipurkiran.in/hindi

वन विभाग की करोड़ों की जमीन हो गई क्रेशर चालक के नाम DAINIK PUKAR. Dainik Pukar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*