रेस्टोरेंट खोलने की चाह में चाचा के ही घर में की चोरी

बांसवाड़ा. कैफे-रेस्टोरेन्ट खोलने की चाह में अपने ही चाचा के घर में चोरी के आरोपी साथियों सहित पुलिस (Police) के हत्थे चढ़ गया. कोतवाली थानाधिकारी रतनसिंह ने बताया कि गत 17 अगस्त को प्रार्थी दीपक पुत्र पीलू कुछबंद निवासी वृन्दावन टॉकिज ने थाने में रिपोर्ट दी कि उसके दादा की मृत्यु होने से वह और उसका चाचा 11 अगस्त से परिवार सहित रतलाम गए हुए थे.

17 अगस्त को पड़ौसियों ने सूचना दी कि घर में चोरी हो गई है इस पर प्रार्थी व उसके चाचा परिवार सहित बांसवाड़ा आये तो दीपक के घर के गल्ले में पड़ी नगदी 2 लाख 20 हजार, सोने-चांदी (Silver) के जेवरात तथा उसके चाचा चमन के घर से ढाई लाख रुपये अज्ञात बदमाश चोरी करके ले गये. अनुसंधान करते हुए टीम ने मामले में कालू पुत्र रामा वाल्मीकि, मोनू उर्फ कुलदीप पुत्र योगेन्द्र कुछबन्द, रोहित पुत्र राजू वाल्मीकि निवासी बाबा बस्ती को गिरμतार कर पूछताछ की. मामले में गिरμतार अभियुक्त मोनू उर्फ कुलदीप प्रार्थी दीपक का सगा भतीजा है. उसने बताया कि हमें कैफे-रेस्टोरेंट खोलना था इसीलिए अपने साथियों के साथ इस वारदात को अंजाम दिया.

Check Also

देश के कई राज्यों ने खोले स्कूल-कॉलेज, कई असमंजस में, राजस्थान ने वापस लिया दो अगस्त से स्कूल खोलने का फैसला

नई दिल्ली (New Delhi) . कोरोना की पहली लहर कमजोर पड़ने के बाद कुछ राज्यों …