राष्ट्रवाद और विकास के मुद्दे पर भाजपा लड़ रही चुनाव- जोशी

चित्तौडग़ढ़, 17 अप्रैल (उदयपुर किरण). लोकसभा चुनाव में इस बार के चुनाव में राष्ट्रवाद और विकास के मुद्दे पर ही भाजपा चुनाव मैदान में उतरी है. यह बात लोकसभा क्षेत्र से सांसद एवं भाजपा प्रत्याशी सीपी जोशी ने बुधवार को पत्रकारों से बातचीत में कही. उन्होंने कहा कि भाजपा इस बार राष्ट्रवाद और 55 साल बनाम 5 वर्ष के मुद्दे के साथ चुनाव मैदान में आई है. जितना काम पिछले 55 सालों में देश में नहीं हुआ उतना मोदी सरकार ने 5 वर्ष में कर के दिखा दिया है. देश की जनता भी आज यह महसूस कर रही है कि पिछले 5 सालों में मोदी सरकार के कार्यकाल में जो कार्य हुए हैं वह आजादी के बाद 55 सालों में भी नहीं हो पाए.

सीपी जोशी ने कहा कि चित्तौडग़ढ़ लोकसभा क्षेत्र के लिए पिछले 5 सालों में हमेशा से उन्होंने यह प्रयास किया है कि लोगों की अपेक्षाओं पर खरा उतरे और इसमें उन्होंने पूरा प्रयास किया है कि क्षेत्र के विकास के लिए भारत सरकार की हर योजना को पूरे लोकसभा क्षेत्र में पहुंचाया जाए. इसमें वे सफल भी रहे हैं. उन्होंने कहा कि उन्होंने क्षेत्र में रेल के विद्युतीकरण, चित्तौड दुर्ग में विकास कार्य, टीएसपी क्षेत्र में चहुंमुखी विकास कार्य करवाने को प्राथमिकता दी है. उन्होंने कहा कि पिछले 5 सालों में क्षेत्र की जनता और कार्यकर्ताओं ने जो प्यार उन्हें दिया है. उन्हें आशा है कि एक बार फिर से जनता और कार्यकर्ताओं का वही प्यार फिर से मिलेगा. उन्होंने अपने कार्यकाल में किए बड़ीसादड़ी-नीमच रेल लाईन के साथ-साथ प्रतापगढ़ रेल लाईन के सर्वे और पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न धार्मिक सर्किट को जोडऩे की गतिविधियों का उल्लेख किया और कहा कि उनके कार्यकाल में उन्होंने लोकसभा में चित्तौड़ और मेवाड़ से जुड़े मुद्दों को कई बार उठाया है.

क्षेत्र के विकास के लिए उन्होंने कभी कोई कसर नहीं रखी है. गत 6 अप्रैल को नाे दौरान हुए विवाद के सवाल पर उन्होंने कहा कि चित्तौड़ ही नहीं कई स्थानों पर नामांकन के दौरान पांच से अधिक व्यक्ति पहुंचे और हंगामे भी हुए हैं. कई स्थानों पर कांग्रेस प्रत्याशियों द्वारा पर्चे भरने के दौरान पांच से अधिक व्यक्तियों के पहुंचने के समाचार मीडिया में भी दिए गए हैं, लेकिन ऐसे मामलों को तूल नहीं दिया गया. चित्तौडग़ढ़ में जिला प्रशासन द्वारा इस मामले को तूल दिया गया और भाजपा के दो वरिष्ठ नेताओं के विरूद्ध इस्तेगासा कर तीन अधिकारियों को एपीओ करने की कार्यवाही ठीक नहीं है, क्योंकि लोकतंत्र में इस तरह की बातें चलती रहती है, जिसे अनावश्यक तूल नहीं देना चाहिए.वार्ता में स्थानीय विधायक चंद्रभानसिंह आक्या, प्रदेश मीडिया प्रभारी पिंकेश पोरवाल सहित भाजपा के कई पदाधिकारी उपस्थित रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*