राम मंदिर शुद्धिकरण का बयान कांग्रेस पार्टी की मानसिकता का प्रदर्शन, जनता नहीं करेगी माफ : रोहन गुप्ता

Photo of author

नई दिल्ली, 10 मई . महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले ने विवादित बयान देते हुए कहा कि हमारी सरकार आएगी तो राम मंदिर का शुद्धिकरण किया जाएगा, चारों शंकराचार्यों को बुलाकर राम मंदिर में विधिवत पूजा कराई जाएगी.

नाना पटोले के बयान के बाद सियासत गरमा गई है. भाजपा नेता रोहन गुप्ता ने पटोले के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि उनकी ओर से इस तरीके का दिया गया बयान कांग्रेस पार्टी की मानसिकता को दर्शाता है. जिस कांग्रेस पार्टी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला हम मानते हैं और राम मंदिर बनाने के साथ खड़े हैं. उसी कांग्रेस पार्टी के नेता राम मंदिर के उद्घाटन में नहीं गए और अब शुद्धिकरण की बात कह रहे हैं. शुद्धिकरण की बात वो कर सकते हैं, जो मंदिर जाएं. ये दिखाता है कि कांग्रेस पार्टी कितनी नकारात्मक मानसिकता से पीड़ित है.

उन्होंने आगे कहा कि विरोध के नाम पर कांग्रेस पार्टी सीमा लांघ जाती है. जिस मोदी सरकार ने ये निश्चय किया था कि राम मंदिर बनाने का रास्ता साफ करें. सुप्रीम कोर्ट ने उसका अनुमोदन किया और उसके बाद राम मंदिर बना. पूरे देश की भावना भगवान राम से जुड़ी हुई थी, उद्घाटन में कांग्रेस पार्टी को न्योता दिया गया. निमंत्रण के बावजूद नहीं जाना, इस फैसले के लिए देश की जनता कांग्रेस पार्टी को कभी भी माफ नहीं करेगी.

उन्होंने आगे कहा कि कांग्रेस के नेताओं को जवाब देना चाहिए कि उन्होंने निमंत्रण को क्यों ठुकराया, सनातन के अपमान पर चुप क्यों रहे? इसके बाद आप शुद्धिकरण पर बात कीजिए. देश की जनता के दिल का शुद्धिकरण हो चुका है, वो जानती है कि उसके लिए क्या बेहतर है. देश का जनमानस नकारात्मक राजनीति को नकारने जा रहा है.

एकेएस/एबीएम