राजा बलि के स्वागत में बनी रंगोली

उदयपुर (Udaipur). शहर में रह रहे केरल (Kerala)वासियों ने शनिवार (Saturday) को ओणम पर्व मनाया. कोरोना संक्रमण के चलते इस वर्ष भी सामूहिक आयोजन नहीं हुआ. पर्व पर घर- घर में रंगोली बनाने के साथ ही परम्परागत व्यंजन बनाकर केले के पत्तों पर परोसे गए. अय्यप्पा मंदिर के सचिव टीपी संजीव ने बताया कि उदयपुर (Udaipur) में रहने वाले केरल (Kerala)वासियों ने हर्षोल्लास से ओणम मनाया. अ

य्यप्पा मंदिर में फूल की रंगोली सजा अय्यप्पा भगवान का विशेष शृंगार किया गया. कोविड गाइड-लाइन की पालना करते हुए सुबह-शाम को विशेष पूजा- अर्चना हुई. केरल (Kerala)ा समाज के सांस्कृतिक मंत्री प्रमोद पिल्लई ने बताया कि पर्व को लेकर केरल (Kerala) के लोगों ने घर में फूलों से रंगोली बनाई, दीपक जलाए और परम्परागत व्यंजन बनाए गए. केले के पत्ते पर परोस गए इन व्यंजनों को परिजनों ने सेवन किया.

इसलिए मनाया जाता है पर्व

ऐसी मान्यता है कि प्रति वर्ष ओणम के दिन राजा महाबलि अपनी प्रजा से मिलने के लिए आते हैं. उनके स्वागत के लिए घरों में सजावट की जाती है एवं फूलों की रंगोली (अल्पना) भी बनाई जाती है. इस त्योहार पर लोग अपने घरों में परम्परागत व्यंजन एरीसद, अवीयल सांभर, पच्चड़ी, किच्चड़ी, तौरण, कालन, रेश्म इंजी, नारगी आचार और अडप्रधमन पायसम बनाते हैं. भोजन के बाद महिलाएं तीरूवादीराकली नृत्य करती हैं.

Check Also

राजस्‍थान : होटल में छापेमारी कर पत्नी ने पति को गर्लफ्रेंड के साथ पकड़ा, वीडियो किया वायरल

जयपुर (jaipur) . राजस्थान (Rajasthan)की राजधानी जयपुर (jaipur)के शास्त्रीनगर ‎स्थित होटल (Hotel) में एक युवती …