यूके: जल्द चुनावों को लेकर बोरिस जॉनसन का दूसरा प्रयास भी विफल

जल्द चुनावों को लेकर ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन का दूसरा प्रयास हुआ विफल, विपक्षी सांसदों ने ब्रेक्सिट समझौते को रोकने वाले नए कानून को लागू करने पर दिया जोर, नए कानून के तहत प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन तब तक बाध्य रहेंगे तब तक वह अगले महीने यूरोपीय संघ के शिखर सम्मेलन में नहीं कर सकते कोई नया समझौता.

ब्रिटेन में नो-डील ब्रेक्जिट को रोकने वाला विधेयक आज से प्रभावी हो गया है. लेकिन इसी बीच ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को संसद में एक और हार का सामना करना पड़ा है जब सांसदों ने अगले महीने की शुरूआत में चुनाव कराने के प्रस्ताव के विपक्ष में मतदान किया. ये मतदान संसद को पांच हफ्ते के लिए निलंबित करने से तुरंत पहले हुआ.

संसद के निलंबन को बोरिस जॉनसन के एक विवादास्पद कदम की तरह देखा जा रहा है. इस बीच हाउस ऑफ कॉमन्स के स्पीकर जॉन बेरको ने अपने इस्तीफा देने की योजना की घोषणा की, जिसके तहत वर्तमान संसद ही उनके उत्तराधिकारी का चुनाव करेगा. साथ ही महारानी एलिजाबेथ द्वितीय ने उस कानून पर अपनी औपचारिक मुहर लगा दी है जो ब्रसेल्स के साथ संबंध टूटने का समझौता नहीं हो पाने की स्थिति में सरकार को ब्रेक्जिट की प्रक्रिया में देरी के लिए बाध्य करेगा.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

Inline

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News

Inline

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News