मोबाइल डेटा ट्रैफिक 2023 में पांच गुना होगा : रपट

नई दिल्ली, 12 जून (उदयपुर किरण). साल 2023 तक स्मार्टफोन ग्राहकों की संख्या में तेज बढ़ोतरी और एलटीई/4जी के सबसे प्रभावशाली प्रौद्योगिकी बनने से देश में मोबाइल डेटा ट्रैफिक में अगले पांच सालों में पांच गुना बढ़ोतरी होगी. एरिक्सन की रपट से मंगलवार को यह जानकारी मिली. इस दौरान मोबाइल डेटा ट्रैफिक में वृद्धि को 5जी के वाणिज्यिक रूप से चालू हो जाने से भी बढ़ावा मिलेगा, हालांकि एरिक्सन का अनुमान है कि भारत में 5जी ग्राहकी 2022 से उपलब्ध होगी.

मोबाइल उद्योग के नवीनतम प्रचलन का अनुमान और विश्लेषण करनेवाली एरिक्सन मोबिलिटी रपट के 14वें संस्करण में कहा गया है कि अनुमान है कि उत्तरी अमेरिका 5जी अपनाने में सबसे आगे रहेगा, क्योंकि अमेरिका के सभी प्रदाता 2018 के अंत से 2019 के मध्य तक 5जी नेटवर्क को तैनात करने की योजना बना रहे हैं.

इस रपट में अनुमान लगाया गया है कि भारत में प्रति स्मार्टफोन मासिक डेटा उपयोग 2017 में 5.7 जीबी से बढ़कर 2023 में 13.7 जीबी हो जाएगा.

एरिक्सन मोबिलिटी रपट के कार्यकारी संपादक प्रतीक सेरवाल ने उदयपुर किरण को एक साक्षात्कार में बताया, “दुनिया में स्मार्टफोन और एलटीई/4जी प्रौद्योगिकी तेजी से बढ़ती जा रही है, जैसा कि 2017 के अंत में देखा गया. यह बहुत तेजी से बढ़ रहा है और यह बदलाव भारत में भी देखने को मिलेगा.”

The post मोबाइल डेटा ट्रैफिक 2023 में पांच गुना होगा : रपट appeared first on Udaipur Kiran

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*