बेशकीमती विवादित जमीन पर कब्जे का प्रयास, बेगूं विधायक ने जमाया SHO की कुर्सी पर कब्जा

भीलवाड़ा (Bhilwara). समीपवर्ती चित्तौडगढ़ जिले के गंगरार रेलवे (Railway)स्टेशन के पास करोड़ों रुपए की विवादित जमीन पर कब्जा करने के मामले में शनिवार (Saturday) को उस वक्त नया मोड़ आ गया जब बेगूं विधायक राजेन्द्र विधुड़ी पीड़ित युवक की सूचना पर स्वयं विवादित जमीन पर पहुंच गये और वहां चल रहे निर्माण कार्य को रूकवा दिया. यहीं नहीं बाद में विधायक ने थाने पहुंचकर एसएचओ की कुर्सी पर कब्जा जमा लिया और चार घंटे तक थाने में थाना प्रभारी की कुर्सी पर बैठे रहे. हालांकि नियमों में ऐसा नहीं है कि थाना प्रभारी की कुर्सी पर विधायक बैठे इसको लेकर यह जन चर्चा का विषय बना रहा. वहीं पुलिस (Police) ने रिटायर्ड एडिशनल एसपी सहित दो जनोें के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है.

जानकारी के अनुसार गंगरार में रेलवे (Railway)स्टेशन के पास इस बेशकीमती जमीन के फर्जी दस्तावेज बनाने के मामले में पुलिस (Police) ने तहसील कार्यालय के एक कर्मचारी सहित कुछ आरोपियों को पहले ही गिरμतार कर चुकी है लेकिन शनिवार (Saturday) को उन्हीं लोगों के पक्ष में क्षेत्रीय विधायक राजेन्द्र विधुड़ी ने आते हुए गंगरार थाने पहुंचकर वहां विरोध जताया और इसी के चलते थाना प्रभारी शिवराज गुर्जर को भी लाइन हाजिर कर दिया गया. विधायक विधुड़ी की शिकायत पर पुलिस (Police) अधीक्षक चित्तौड़गढ़ राजेन्द्र गोयल ने भी इस मामले की पूरी रिपोर्ट मांगी है.

गौरतलब है कि 70 साल पुराने मनोहर कॉटन मिल की जमीन पर कब्जा करने के लिए गंगरार तहसील के कर्मचारी सांवरमल और रतन जाट सहित कुछ लोगों के खिलाफ पहले ही कोर्ट में मामला चल रहा है और इस मामले में पुलिस (Police) सांवरमल और रतन जाट सहित चार लोगों को पहले गिरμतार कर चुकी है. करोड़ों रुपए की इस जमीन को लेकर रतन जाट की ओर से एक मामला भी दर्ज कराया गया. वहीं मनोहर कॉटन मिल की ओर से दर्ज मामले की जांच आईजी भी कर चुकी है और अब इस मामले की जांच भीलवाड़ा (Bhilwara) के अतिरिक्त पुलिस (Police) अधीक्षक के पास है.

बताया जा रहा है कि इस विवादित जमीन पर कुछ निर्माण कार्य चल रहा था. शनिवार (Saturday) को इसे रूकवाने के लिए पुलिस (Police) कर्मियों के साथ क्षेत्रीय विधायक राजेन्द्र विधुड़ी वहां पहुंचे और निर्माण को रूकवाते हुए वहां हुए निर्माण को तुड़वा दिया. बाद में पुलिस (Police)कर्मी कॉटन मिल की ओर से वहां मौजूद रिटायर्ड एडिशनल एसपी पूरणसिंह भाटी व राकेश राठी को थाने ले जाकर बिठा दिया. जिन्हें देर रात थाने से छोड़ा गया. वहीं विधायक विधुड़ी की शिकायत पर पुलिस (Police) अधीक्षक गोयल ने गंगरार थाना प्रभारी शिवराज गुर्जर को भी लाईन हाजिर करवा दिया.

साथ ही रतनलाल पुत्र परथु जाट निवासी लाडूपुरा उर्फ लोड़ीखेड़ा की रिपोर्ट पर गंगरार पुलिस (Police) ने राकेश राठी व पूरणसिंह भाटी सहित चार-पांच अन्य लोगों के खिलाफ भादसं की धारा 147, 447, 427 व 506 के तहत मुकदमा दर्ज कर अनुसंधान सहायक उप निरीक्षक नगजीराम के जिम्मे किया. गौरतलब है कि करोड़ों रुपयों की इस जमीन के दस्तावेज बनाकर इसे हड़पने के प्रयास का मामला कॉटन मिल की ओर से भी दर्ज करवाया गया था. जिसकी जांच कई पुलिस (Police) अधिकारियों के करने के बाद फर्जीवाड़ा सामने आने पर इसमें तहसील के कर्मचारी सहित कुछ लोगों को गिरμतार किया जा चुका है और अभी भी जांच चल रही है. उधर इस संबंध में विधायक विधुड़ी से भी सम्पर्क करने का प्रयास किया गया लेकिन उनसे सम्पर्क नहीं हो पाया.

Check Also

राजस्‍थान : होटल में छापेमारी कर पत्नी ने पति को गर्लफ्रेंड के साथ पकड़ा, वीडियो किया वायरल

जयपुर (jaipur) . राजस्थान (Rajasthan)की राजधानी जयपुर (jaipur)के शास्त्रीनगर ‎स्थित होटल (Hotel) में एक युवती …