फिर विवादों में घिरी ये कंपनी, देने होंगे 202 करोड़ रुपये

फिर विवादों में घिरी ये कंपनी, देने होंगे 202 करोड़ रुपये

बच्चों के लिए विभिन्न उत्पाद बनाने वाली विश्व प्रसिद्ध कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन को अपनी एक महिला उपभोक्ता को 202 करोड़ रुपये (29 मिलियन डॉलर) का हर्जाना देना पड़ेगा.

महिला ने आरोप लगाया है कि कंपनी के पाउडर में एस्बेसटोस की मात्रा होने के कारण उसे कैंसर हो गया है. इसके बाद उसने कंपनी से हर्जाने की मांग की. मिसौरी की अदालत ने कंपनी को यह हर्जाना देने का आदेश दिया है.

हालांकि कंपनी ने कहा कि वह अदालत का सम्मान करती हैं और हर तरह की जांच के लिए तैयार हैं. कंपनी का कहना है कि उसके टैलकम पाउडर में शरीर को नुकसान पहुंचाने वाले कोई कण मौजूद नहीं हैं. उसने यह भी दावा किया कि कई अध्ययनों के बाद यह स्पष्ट हो गया है कि उसका पाउडर पूरी तरह सुरक्षित है. हालांकि अमेरिका में इस कंपनी के खिलाफ 13000 मुकदमें चल रहे हैं.

केस दर्ज कराने वाली महिला टेरी लेविट ने आरोप लगया है कि उसने 1960-70 के दशकों में कंपनी का शॉवर टू शॉवर पाउडर इस्तेमाल किया था और उसे 2017 में मेसोथिलिओमा नामक बीमारी होने का पता चला.

पिछले वर्ष जुलाई में मिसौरी की अदालत के फैसले पर कंपनी को उसका पाउडर इस्तेमाल करने वाली 22 महिलाओं को ओवरी कैंसर होने पर 32,169 करोड़ रुपये (4.7 बिलियन डॉलर) हर्जाने के रूप में देने पड़े थे.

जॉनसन एंड जॉनसन और विवादों का पुराना नाता रहा है. 1982 में अमेरिका में जॉनसन एंड जॉनसन के टायलीनॉल दवा से 7 लोगों की मौत हो गई थी और कंपनी ने 3.1 करोड़ बोतलों को तुरंत वापस लिया था. वहीं 2008 में कई लोगों ने कंपनी के उत्पादों पर बदबू और मिलावट का आरोप लगाया था. 2 साल बाद कंपनी ने करीब तीन करोड़ यूनिट प्रोडक्स वापस लिए. जॉनसन एंड जॉनसन का भारत में बेबी केयर कारोबार 92500 करोड़ रुपये का है. अगले 4 साल में कारोबार बढ़कर 1.98 लाख करोड़ रुपये का होने का अनुमान है.


http://udaipurkiran.in/hindi

फिर विवादों में घिरी ये कंपनी, देने होंगे 202 करोड़ रुपये DAINIK PUKAR. Dainik Pukar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*