पीएम मोदी दो दिनों के बिहार प्रवास से कई सीटों पर करेंगे ‘किलेबंदी’!

Photo of author

पटना, 9 मई . प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बिहार में दो दिनों के प्रवास पर आने वाले हैं. उनके बिहार प्रवास को लेकर जहां सियासी पारा गर्म है, वहीं इसे राजनीतिक रूप से भी खास माना जा रहा है. चुनाव के मद्देनजर इसे भाजपा का बड़ा राजनीतिक दांव भी बताया जा रह है.

कार्यक्रम के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने बिहार प्रवास के दौरान 12 मई को बिहार की राजधानी पटना में रोड शो करेंगे, वहीं 13 मई को हाजीपुर, मुजफ्फरपुर और छपरा में जनसभा को संबोधित करने की संभावना है.

यह तय है कि बिहार प्रवास के दौरान उनके निशाने पर राजद के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव और तेजस्वी यादव होंगे. भाजपा के नेताओं का दावा है कि बिहार में किसी भी प्रधानमंत्री की होने वाले इस पहले रोड शो में बड़ी संख्या में लोग स्वागत में सड़कों पर उतरेंगें.

यह रोड शो पटना साहिब लोकसभा क्षेत्र में आयोजित होना है, लेकिन इसकी धमक पटना साहिब से सटे पाटलिपुत्र लोकसभा क्षेत्र में भी सुनाई देगी. पाटलिपुत्र से राजद के टिकट पर लालू यादव की बेटी मीसा भारती चुनावी मैदान में हैं. पटना का करीब आधा इलाका पटना साहिब लोकसभा क्षेत्र में आता है, जबकि आधा इलाका पाटलिपुत्र लोकसभा क्षेत्र में.

इस रोड शो में बड़ी संख्या में पाटलिपुत्र संसदीय क्षेत्र के लोग भी सड़कों पर उतरेंगे. ऐसे में तय है कि प्रधानमंत्री का रोड शो भले ही पटना साहिब में होगा, लेकिन इसका असर पाटलिपुत्र ही नहीं बल्कि पास के जहानाबाद संसदीय क्षेत्र में भी पड़ेगा, जहां अभी मतदान होना बाकी है.

पटना साहिब, पाटलिपुत्र और जहानाबाद में अंतिम चरण के तहत एक जून को मतदान होना है.

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने कहा कि 12 मई की शाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पटना में रोड शो करेंगे. यह रोड शो बेली रोड से शुरू होगा और डाक बंगला के विभिन्न इलाकों में जायेगा. इस रोड शो में बिहार की झलक दिखेगी. इस रोड शो में भाग लेने के लिए बिहार के दूसरे इलाकों से भी लोग आएंगे.

इसके बाद 13 मई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हाजीपुर, मुजफ्फरपुर और सारण में जनसभा को संबोधित करेंगे.

सारण से लालू प्रसाद यादव की पुत्री रोहिणी आचार्य चुनावी मैदान में हैं. सारण लालू यादव की कर्मस्थली रही है और इस चुनाव में भी लालू यादव ने कई दिन सारण में गुजारे हैं.

13 मई को चौथे चरण के तहत पांच सीटों दरभंगा, उजियारपुर, समस्तीपुर, बेगूसराय और मुंगेर में मतदान होना है. ऐसे में मतदान के दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बिहार में होना भाजपा की एक चुनावी रणनीति का हिस्सा बताया जा रहा है.

पिछले लोकसभा चुनाव में बिहार की 40 सीटों में से 39 सीटें एनडीए की झोली में गई थी, लेकिन इस चुनाव में भाजपा को इस बात की आशंका है कि पिछली बार की तुलना में एनडीए की सीटें घट सकती हैं.

एमएनपी/