पाक राजदूत ने पुलवामा हमले पर नहीं की टिप्पणी

अजमेर,16 मार्च (उदयपुर किरण). सूफी संत ख्वाजा साहब के 807वें सालाना उर्स का विधिवत समापन रविवार को बड़े कुल की रस्म के साथ होगा. शनिवार को पाकिस्तान के राजदूत साहेल महमूद, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सहित किन्नरों की चादर पेश. पाकिस्तान के भारत स्थित राजदूत सोहेल महमूद ने शनिवार को सूफी संत ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह में सूफी परंपरा के अनुसार जियारत की. विशेषाधिकार का उपयोग करते हुए सोहेल महमूद ने ख्वाजा साहब की दरगाह में जियारत की. सोहेल के लिए दरगाह में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए. शहर भर का यातायात रोक कर सोहेल को सुरक्षित जियारत करवाई गई. जियारत के बाद मीडिया से संवाद करते हुए सोहेल ने कहा कि उन्होंने पाकिस्तान की सरकार और अवाम की ओर से चादर पेश की है.

भारत और पाकिस्तान के संबंधों और पुलवामा हमले पर तो सोहेल ने कोई टिप्पणी नहीं की, लेकिन 15 मार्च को न्यूजीलैंड में दो मस्जिदों में हुए हमले को सोहेल ने आतंकी हमला बताया. न्यूजीलैंड में ब्रेटन टेरेंट नामक एक युवक ने दो मस्जिदों में फायरिंग कर करीब पचास व्यक्तियों को मार दिया. ज्ञात हो कि इस बार ख्वाजा साहब के सालाना उर्स में पाकिस्तान से जायरीन दल नहीं आया. पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की ओर से शनिवार को उर्स के मौके पर चादर पेश की गई. पूर्व मंत्री युनुस खान चादर लेकर अजमेर पहुंचे. इससे पूर्व वसुंधरा राजे ने अपने जयपुर स्थित निवास स्थान पर ख्वाजा साहब के मजार शरीफ पर पेश की जाने वाली चादर भाजपा नेताओं को सौंपी. खान के साथ पूर्व मदरसा बोर्ड चेयरमैन हिदायत खान धोलिया, दरगाह कमेटी के अध्यक्ष अमीन पठान, शहर भाजपा अध्यक्ष शिवशंकर हेड़ा, अल्पसंख्यक मोर्चे के अध्यक्ष शफीक खान आदि ख्वाजा साहब की दरगाह पहुंचे.

सभी को दरगाह के खादिम सैयद अफशान चिश्ती ने जियारत कराई और वसुंधरा राजे की ओर से भेजी गई चादर मजार शरीफ पर पेश की और वसुंधरा राजे के बेहतर राजनीतिक जीवन व स्वास्थ्य की कामना करते हुए उनके लिए दरगाह का तबर्रूक भेंट किया. उर्स के मौके पर वसुंधरा राजे की ओर से भेजा गया संदेश चिश्ती ने बुलंद दरवाजे से पढ़कर सुनाया. राजे ने अपने संदेश में कहा कि महान सूफी संत सुल्तान ए हिंद ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती के 807वें सालाना उर्स की सभी को मुबारकबाद दी. भारत की पहचान कही जाने वाली कौमी एकता की तहजीब को ख्वाजा साहब की शिक्षाओं ने बल दिया है. वह भारत की महान सूफी परम्पराओं के प्रतीक हैं और उनके द्वारा की गई खिदमत-ए-खल्क आज भी हम सबके लिए मिसाल है. उन्होंने प्रदेश की खुशहाली और अमन चैन की दुआ मांगी.

युवक कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष की चादर पेश : युवक कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष केशवचंद यादव और उपाध्यक्ष वीवी श्रीनिवासन की ओर से शनिवार को वाजा साहब के उर्स में चादर पेश की गई. युवक कांग्रेस के नेता और दरगाह के खादिम सैयद यासिर चिश्ती ने दोनों की ओर से गरीब नवाज के मजार पर चादर पेश की और उनकी ओर से भेजा गया संदेश पढ़कर जायरीन को सुनाया. चादर पेश करने वालों में सुनील लारा, मोहित मल्होत्रा, ईश्वर राजोरिया, इमरान खान, ऋषि घारू आदि शामिल थे.

ताज पेश : उर्स के मौके पर देशभर से आने वाले अकीदतमंद अपने-अपने हिसाब से ख्वाजा साहब के दर पर अपनी आस्था प्रकट करते है. शनिवार को जायरीन के दल ने चांदी का ताज पेश किया. देशभर से आए किन्नरों ने भी उर्स के मौके पर नाचते-गाते ख्वाजा साहब के दरबार में चादरें पेश की.

पंजाब के राज्यपाल ने की दरगाह जिय़ारत: ख्वाजा साहब के उर्स के मौके पर पंजाब के राज्यपाल वीपी सिंह बदनोर ने जिय़ारत की ओर चादर पेश कर खिराजे अकीदत पेश की. राज्यपाल बदनोर ख्वाजा साहब की दरगाह पहुंचे उन्होंने सूफी परंपरा के अनुरूप जियारत की ओर पवित्र मज़ार पर मखमली चादर पेश की. दरगाह के खादिम सैय्यद अफशन चिश्ती ने जियारत कराई और तबर्रुक भेंट किया. दरगाह कमेटी के अध्यक्ष अमीन पठान, सदस्य मुनव्वर खान, नाजि़म शकील अहमद ने स्वागत किया.


http://udaipurkiran.in/hindi

The post पाक राजदूत ने पुलवामा हमले पर नहीं की टिप्पणी appeared first on DAINIK PUKAR. Dainik Pukar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*