पांच महीने बाद पकड़े गए दुष्कर्म और हत्या के आरोपित, न्यायालय ने भेजा 7 दिन के रिमांड पर

जयपुर,14 मई (उदयपुर किरण). गत वर्ष 25 दिसम्बर को घर से विवाहिता को बहला फुसलाकर उसकी हत्या करने वाले अज्ञात बदमाशों को आखिरकार पुलिस ने पकड़ लिया हैं.

कानोता थानाधिकारी नरेन्द्र कुमार खीचड़ ने बताया कि मीणों का बाढ़ निवासी पीडित ने 28 दिसंबर को थाने में अपनी विवाहिता पुत्री हीरा (20) की हत्या का मामला दर्ज करवाया था. पुलिस ने मामला दर्ज कर बदमाशों को पकड़ने की काफी कोशिश की लेकिन अपराधी पुलिस गिरफ्त में नहीं आ सके. ऐसे में प्रकरण को गंभीरता से लेते हुए पुलिस आयुक्त आनन्द श्रीवास्तव के निर्देशन में पुलिस उपायुक्त जयपुर पूर्व राहुल जैन, सहायक पुलिस आयुक्त मनस्वी चौधरी और स्थानीय थानाधिकारी नरेन्द्र कुमार ख्रीचड़ ने बदमाशों को पकड़ने के लिए एक टीम का गठन किया. टीम ने तकनीकी सहायता और आमसूचना के संकलन से घटना के बाद से फरार नौनपुरा निवासी गिर्राज उर्फ फौजी  और पापड़ निवासी कालूराम को पकड़कर सख्ती से पूछताछ की. दोनों ही आरोपितों ने अपराध स्वीकार कर लिया. पुलिस के अनुसार मृतका हीरा और कालूराम के बीच दो-तीन महीने से प्रेम प्रसंग चल रहा था. इस बीच कालूराम के सहयोगी गिर्राज ने हीरा से दोस्ती के लिए कालूराम को कहा. जब गिर्राज की बात हीरा से हुई तो उसने हीरा को 25 दिसंबर को रात 11 बजे घर के बाहर मिलने के लिए बुलाया. इस दौरान गिर्राज और कालूराम ने हीरा को बाइक पर बिठाकर नौनपुरा स्थित कालूराम की दुकान पर ले गये.

जहां कालूराम ने हीरा को गिर्राज से दोस्ती करने के लिए कहा और उसे छोड़कर चला गया. दुकान में गिर्राज ने हीरा के साथ दुष्कर्म किया. हीरा ने घटना की जानकारी अपने घरवालों को देने की धमकी दी तो गिर्राज ने उसकी हत्या कर दी. हीरा की हत्या कर गिर्राज और कालूराम ने लाश को जंगल में फेंक दिया. पुलिस ने वारदात के मुख्य अभियुक्त गिर्राज मीणा को टोंक जिले के दतवास और कालूराम को नायला से शक के आधार पर पकड़कर थाने ले गई. थाने लाकर पुलिस ने दोनों से सख्ती से पूछताछ की तो आरोपितों ने अपराध स्वीकार कर लिया. न्यायालय ने मंगलवार को आरोपितों को कोर्ट में पेश कर 7 दिन की रिमांड पर भेजा है. पुलिस ने बताया कि गिर्राज पर पहले भी अवैध शराब तस्करी और लूट के मामले दर्ज हुए है.

https://udaipurkiran.in/hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*