नया विंग उन सभी माताओं को समर्पित है जिन्होंने प्रसव के दौरान अपने जीवन को खतरे में डाला · Indias News

नया विंग उन सभी माताओं को समर्पित है जिन्होंने प्रसव के दौरान अपने जीवन को खतरे में डाला

अलीगढ़. अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रोफेसर तारिक मंसूर ने जवाहर लाल नेहरू मेडीकल कालिज व हस्पताल में स्त्री एवं प्रसूति रोग विभाग के 100 बिस्तरों वाले मेटरनिटी एण्ड चाइल्ड केयर (एमसीएच विंग) की आधारशिला वीडियो कांफ्रेंसिंग समारोह के दौरान भारत सरकार के सोशल डिस्टेंसिंग दिशा निर्देशों का पालन करते हुए रखी. कुलपति प्रोफेसर तारिक मंसूर ने इस अवसर पर अपने आनलाइन उद्बोधन में कहा कि यह नया विंग उन सभी माताओं को समर्पित है जिन्होंने प्रसव के दौरान अपने जीवन को खतरे में डाला है. यह परियोजना विश्वविद्यालय में चल रही विभिन्न राष्ट्रीय व राज्जीय स्तरीय परियोजनाओं की एक कड़ी है. कुलपति ने कहा कि इस विंग की स्थापना से अलीगढ़ व आसपास के क्षेत्रों से आने वाले रोगियों को बहुत लाभ होगा. उन्होंने कहा कि कोविड-19 की महामारी के समय अमुवि के स्वास्थय कर्मियों और अद्र्वचिकित्सीय कर्मियों ने शानदार तरीके से अपने कार्य को अंजाम दिया है और कोरोना वायरस संक्रमण के फैलाव को रोकने में अपना पूरा सहयोग दिया है. कुलपति ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी ने हमें एक अवसर प्रदान किया है कि हम चिकित्सा के प्रबन्धन को सहीं कर सकें. उन्होंने कहा है कि इस महामारी में भी अवसर मौजूद हैं जिनकी हमें पहचान करनी होगी और इसी के अनुसार अपनी रणनीति बनानी होगी.मानद् अतिथि और नेशनल अरबन हैल्थ मिशन उत्तर प्रदेश की महाप्रबन्धक डा. स्वप्ना दास ने अपने उद्बोधन में एएमयू में समस्त राष्ट्रीय कार्यक्रमों के सफलतापूर्वक संचालन के लिये विश्वविद्यालय और मेडीकल कालिज को बधाई दी. उन्होंने आरआरटीसी, लक्ष्या, एमओसी, कैंसर स्क्रीनिंग के लिये प्रशिक्षण और आरबीएस का विशेष रूप से उल्लेख किया. मेडीकल कालिज के प्रिन्सिपल और सीएमएस प्रो. शाहिद अली सिद्दीकी और मेडीसिन फैकल्टी के कार्यवाहक डीन प्रो. एमयू रब्बानी ने स्त्री एवं प्रसूति रोग विभाग को बधाई देते हुए कहा कि इस परियोजना के पूर्ण होने से आसपास के रोगियों को बड़े स्तर पर लाभ होगा. इससे पूर्व स्त्री एवं प्रसूति रोग विभाग की अध्यक्ष प्रो. तमकीन खान ने अपने स्वागत भाषण में डा. स्वप्ना दास और अन्य अतिथियों का स्वागत करते हुए 28 करोड़ की इस प्रस्तावित परियोजना पर प्रकाश डाला और विभाग की उपलब्धियों को गिनाया. उन्होंने शिक्षा व शोध के क्षेत्र में हुई प्रगति के लिये कुलपति प्रो. तारिक मंसूर का भी विशेष रूप से आभार व्यक्त किया. अंत में यूनिवर्सिटी इंजीनियर राजीव शर्मा ने कार्यक्रम में सम्मिलित हुए अतिथियों का आभार जताया.

Check Also

युवक का शव पेड़ पर फांसी पर लटका मिला

भिंड जिले के भारौली थाना क्षेत्र ग्राम मचल सिंह का पुरा में एक युवक का …