जम्मू-कश्मीर के मंदिरों की भूमि, शांति में खलल डालने वालों को नहीं बख्सेंगे : अमित शाह

जम्मू (Jammu) . देश के गृहमंत्री अमित शाह ने अपने 3 दिवसीय कश्मीर दौरे के दौरान जम्मू (Jammu) के भगवती नगर में रैली को संबोधित करते हुए कहा कि मैं पहली बार प्रदेश में अनुच्छेद 370 खत्म होने के बाद आया हूं. जम्मू-कश्मीर में विकास का नया युग शुरू हुआ है. अब जम्मू (Jammu) और कश्मीर (Jammu and Kashmir) दोनों का समान रूप से विकास होगा. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) (Prime Minister Narendra Modi) जी ने पांच अगस्त 2019 को ऐतिहासिक फैसला लेकर जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटा दिया. पहले सभी को समान रूप से नौकरी नहीं मिलती थी लेकिन अब ऐसा नहीं होगा. प्रदेश के आदिवासी लोगों को वन अधिकार दिए. जम्मू-कश्मीर में पहले चार मेडिकल कॉलेज थे लेकिन अब सात नए कॉलेज बनाए जा रहे हैं. पांच बन गए हैँ जबकि दो अन्य भी जल्द बनकर तैयार हो जाएंगे.
आज ही आईआईटी कैंपस की शुरूआत हुई है. इसमें सभी आधुनिक सुविधाएं मौजूद रहेंगी. इसमें सभी आधुनिक सुविधाएं मौजूद रहेंगी. इसमें 35 हजार युवा प्रशिक्षण ले सकेंगे. प्रदेश में 25 हजार युवाओं को नौकरियां दी जा चुकी हैं. आज हमनें सात हजार लोगों को नौकरी के लिए नियुक्ति पत्र सौंपे हैं. जम्मू-कश्मीर में आज 12 हजार करोड़ का निवेश हो रहा है. तीन परिवार हमारा मजाक उड़ाते थे कि जम्मू-कश्मीर में कौन निवेश करेगा. आज करोड़ों का निवेश जम्मू-कश्मीर में हो रहा है. पिछले 70 वर्षों में पूर्व की सरकारों ने क्या दिया. मोदी जी ने तो 80 हजार करोड़ का पैकेज दिया था. प्रदेश में एक हजार लोगों को वन अधिकार के दस्तावेज सौंपे हैं. आज जम्मू-कश्मीर में 15 हजार विकास कार्य शुरू किए हैं. पूर्व की सरकारों ने इन्हें करने में कभी भी दिलचस्पी नहीं दिखाई.

अंतरराष्ट्रीय सीमा के समीप रहने वाले लोगों को आरक्षण दे दिया गया है. बहुत जल्द गुज्जर समुदाय को भी आरक्षण दे दिया जाएगा. जम्मू (Jammu) में जल्द ही मेट्रो दौड़ती नजर आएगी. प्रदेश के हरेक जिले में हेलिपेड बनाया जाएगा. प्रदेश के हरेक गांव को 20 से 22 घंटे बिजली की आपूर्ति की जाएगी. इसके लिए पक्कल, दूलहस्ती से बात की गई है. मोदी जी के दिल में जम्मू-कश्मीर को लेकर हमेशा चिंता रहती है. आयुष्मान योजना जम्मू-कश्मीर के सभी लोगों के लिए हैं. कोरोना से बचाव के लिए प्रदेश में शत प्रतिशत टीकाकरण हुआ जिसके लिए आप सभी बधाई के पात्र हैं.
मोदी जी के नेतृत्व में सभी के घरों में बिजली पहुंची है. मोदी जी ने 30 हजार लोगों को चुना है. प्रदेश में पंचायती चुनाव करवाए. पंच-सरपंच बनाए. जिला विकास परिषद के सदस्य बनाए. जम्मू-कश्मीर मंदिरों की भूमि है. मां वैष्णो की भूमि है. यहां की शांति में खलल डालने वालों को नहीं बख्सेंगे.

इससे पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह जम्मू (Jammu) में पहुंचे. उन्होंने नगरोटा स्थित आईआईटी नगरोटा में ब्लाक का उद्घाटन किया और इसके उपरांत वह भगवती नगर रैली स्थल के लिए रवाना हुए.जम्मू (Jammu) पहुंचने पर उनका स्वागत में उपराज्यपाल मनोज सिन्हा, जम्मू-कश्मीर पुलिस (Police) के डीजी दिलबाग सिंह सहित जम्मू (Jammu) के मेयर चंद्र मोहन गुप्ता सहित अन्य गणमान्य मौजूद थे.
अमित शाह ने जीएमसी ऊधमपुर का नींव पत्थर रखा और केंद्र सरकार (Central Government)द्वारा प्रायोजित विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत लाभार्थियों में चेक वितरित किए. उन्होंने मंच पर मिशन यूथ के अंतर्गत शफ्कत अली और रमन सिंह को नियुक्ति पत्र सौंपे. अमित शाह ने तेजस्विनी योजना के अंतर्गत शिवानी रेखी, सुनीता रानी और वीना को भी नियुक्ति पत्र सौंपे हैं. अमित शाह ने चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों को नियुक्ति पत्र सौंपे हैं जिनका हाल ही में चयन हुआ है. इसके अलावा उन्होंने केंद्र की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का भी उद्घाटन किया.

केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित सिंह का स्वागत किया. उन्होंने रैली स्थल से संबोधित करते हुए कहा कि मैं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह जी का स्वागत करता हूं. जम्मू-कश्मीर के ग्रामीण और शहरी लोगों के जीवन को सुगम बनाने के लिए कई कल्याणकारी कदम उठाए गए हैं. सरकार ने वाल्मीकि समाज के लोगों को अधिकार दिए. प्रदेश के पहली बार आठ हजार युवाओं को पहली बार पारदर्शिता तरीके से रोजगार दिया गया. हमारी सरकार ने प्रदेश में रहने वाले महाजन और सिख समुदाय के लोगों को कृषि योग्य भूमि खरीदने का अधिकार दिया है.
जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा कि प्रदेश ने स्वच्छता अभियान में तीसरा स्थान हासिल किया है जो सभी के लिए गौरव की बात है. प्रदेश में रुकी-पड़ी कई परियोजनाओं पर काम शुरू हो चुका है. प्रदेश के स्वास्थ्य क्षेत्र में सुधार के लिए कई महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं. जम्मू-कश्मीर ने शत प्रतिशत टीकाकरण के अभियान के लक्ष्य को पूरा किया है. गृह मंत्री के सहयोग से हमने रिट्रीट सेरामनी शुरू की है. जम्मू (Jammu) कश्मीर सरकार ने प्रदेश में निवेश के लिए 60 हजार के प्रस्ताव को मंजूरी दी है. प्रदेश सरकार प्रत्येक नागरिक की सुरक्षा के लिए पूरी तरह से वचनबद्ध है.

केंद्रीय मंत्री जितेन्द्र सिंह ने अपने संबोधन में कहा कि अमित शाह साहब ने जम्मू-कश्मीर को एक नई दिशा दी है. प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) जी ने हमेशा ही जम्मू-कश्मीर की चिंता की है. वर्ष 2014 में जब जम्मू-कश्मीर में बाढ़ आई तो सबसे पहले मोदी जी ने दिवाली जम्मू-कश्मीर के बाढ़ पीड़ितों के साथ मनाई. पंडित प्रेमनाथ डोगरा के सपनों को अमित शाह जी ने पूरा किया है. धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के युवाओं व युवतियों के लिए कई कल्याणकारी योजनाएं शुरू की गई हैं.जम्मू-कश्मीर में 2014 के बजट में आइआइटी बनाने के लिए कहा गया. इसके निर्माण में 1100 करोड़ रुपए खर्च आए. जम्मू (Jammu) में एम्स और आइआइएम है. जम्मू (Jammu) विद्या का केन्द्र बनेगा. इसके लिए चर्चा की जा रही है.
 

Check Also

इस हफ्ते 10 करोड़ हो जाएगी असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकरण की संख्या

नई दिल्ली (New Delhi) . सरकार के ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकृत असंगठित श्रमिकों का आंकड़ा …