चूहे मारने की गोलियां खाने से विवाहिता की मौत

चूहे मारने की गोलियां खाने से विवाहिता की मौत

कोटा, 16 मार्च (उदयपुर किरण). कोटा जिला ग्रामीण सांगोद थानाक्षेत्र के दीगोद इलाके में एक विवाहिता ने पारिवारिक कलह के चलते घर पर चूहे मारने की गोलियों का सेवन कर लिया. जिसकी शनिवार सुबह कोटा के न्यू मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान मौत हो गई.

जानकारी के अनुसार कोटा जिले के ग्रामीण क्षेत्र सांगोद के दीगोद गांव निवासी राधा बाई (25) पत्नी मोनू नाइक ने पारिवारिक कलह के चलते 15 मार्च शाम को घर पर ही चूहे मारने की दवाई का सेवन कर लिए. जिससे विवाहिता की तबियत बिगड़ने पर परिजनों ने महिला को कोटा के न्यू मेडिकल कॉलेज में भर्ती करवाया. जहां महिला ने सुबह उपचार के दौरान दम तोड़ दिया. घटना की जानकारी पर दीगोद थाना हैड कॉन्स्टेबल देवेंद्र सिंह ने मृतक महिला के शव को एमबीएस अस्पताल की मोर्चरी में शिफ्ट करवाया जहां से महिला के शव का पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंप दिया गया.

विवाहिता के पीहर पक्ष वालों ने पति मोनू पर जहर देकर मारने का आरोप लगाते हुए कहा कि महिला का पति व सास आये दिन किसी न किसी बात को लेकर राधा बाई के साथ मारपीट किया करता था. वही विवाहिता के पति ने बताया कि उनके पिता की तबियत खराब होने पर वो उनको झालावाड़ अस्पताल में डॉक्टर को दिखाने गए थे. उसकी पत्नी राधा बाई इसी बात से नाराज थी. बाद में मामला शांत भी हो गया. दूसरे दिन जब वो काम करने गढ़ेपान फैक्ट्री गया हुआ था वहां उसकी पत्नी का फोन आया जिस पर उसने खाना खाने की बात पूछ कर फोन काट दिया. जिसके बाद जब वो घर पहुचा तो उसकी पत्नी उल्टियां कर रही थी. उसकी तबियत बिगड़ने पर अस्पताल में भर्ती करवाया गया. जहां उसकी उपचार के दौरान मौत हो गई. वही सांगोद थाना पुलिस ने बताया कि पारिवारिक कलह के चलते विवाहिता ने विषाक्त का सेवन किया है जिससे उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई. महिला के मौत के कारणों का पता नहीं चल पाया है, पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*