ग्राम पंचायतों के बजट में 50 फीसदी की कटौती · Indias News

ग्राम पंचायतों के बजट में 50 फीसदी की कटौती

बांदा. शासन ने ग्राम पंचायतों के पंचम वित्त बजट में 50 फीसदी की कटौती कर दी है. काटी गई राशि जिला स्वास्थ्य समिति को दी जाएगी. जिले को पंचम वित्त आयोग से छह करोड़ आवंटित किए गए हैं. इसमें से तीन करोड़ पंचायतों को मिलेंगे और तीन करोड़ जिला स्वास्थ्य समिति को दी जाएगी. स्वास्थ्य समिति इस धनराशि से कोविड-19 के उपकरण, दवा, पीपीई किट, कोरोना जांच किट आदि खरीदेगी. ग्राम पंचायतों के विकास कार्यों के लिए शासन से पंचम वित्त और 14वें वित्त से बजट दिया जाता है. इस वित्तीय वर्ष में जिले को पंचम वित्त से छह करोड़ की धनराशि आवंटित की गई. इसमें शासन ने 50 फीसदी धनराशि कोविड-19 के उपकरण, दवा, पीपी किट, जांच किट आदि खरीदने के लिए काटकर उसे जिला स्वास्थ्य समिति के खाते में भेज दी. इससे ग्राम पंचायतों के अधूरे कार्य ठप होने की संभावना जताई जा रही है. जिला पंचायत राज अधिकारी संजय यादव का कहना है कि ग्राम पंचायतों का कार्यकाल दिसंबर माह में खत्म हो रहा है. ऐसे में गांव के विकास में कोई खास फर्क पड़ने वाला नहीं है. समय कम होने की वजह से धन के दुरुपयोग की संभावना भी बढ़ सकती थी. शेष 50 फीसदी बजट से अधूरे कार्यों को पूरा कराया जाएगा.

Check Also

अंतिम एकादश में जगह मिलने के बाद नर्वस था देवदत्त, विराट और फिंच से काफी कुछ सीखा

दुबई. उभरते हुए बल्लेबाज देवदत्त पडीक्कल ने आईपीएल के अपने पहल ही मैच में शानदार …