गांव में पहुंची जंगल की आग, तीन भैंसे जली

गांव में पहुंची जंगल की आग, तीन भैंसे जली

चित्तौडग़ढ़, 22 मई (उदयपुर किरण). जिले के भदेसर उपखंड क्षेत्र में आने वाले रेवलिया खुर्द ग्राम पंचायत के नीलका खेड़ा गांव में (शिवपुरा) बुधवार दोपहर जंगल में लगी आग ने विकराल रूप धारण कर गांव तक पहुंच गई. इस आगजनी में कई पेड़ जल गए तो वहीं एक बाड़े में बंधी तीन भैंसों की जिंदा जलने से मौत हो गई. सूचना पर करीब आधा दर्जन दमकल मौके पर पहुंची व करीब पांच-छह घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया. सूचला मिलने पर भदेसर थाना पुलिस भी मौके पर पहुंची है.

जानकारी के अनुसार भदेसर थाना क्षेत्र के नीलका खेड़ा गांव में (शिवपुरा) स्थित वन विभाग की नर्सरी में बुधवारअ दोपहर अज्ञात कारणों से आग लगी थी. आग फैलते हुए गांव की तरफ बढऩे लगी तो ग्रामीणों में हड़कम्प मच गया. गांव से पहले उदयराम पुत्र धनराज जाट का बाड़ा है, जिसमें ज्वार की पुलिया व चारा रखा हुआ था, जिन्होंने आग पकड़ ली. इससे बाड़े के नीचे बंधी तीन भैंसे जिंदा जल गई. बाड़े में घास रखी होने के कारण आग और तेजी से भभकी, जिसके कारण लोग बाड़े के पास नहीं जा पाए. देखते ही देखते तीनों भैंस ग्रामीणों की आंखों के सामने जिंदा जल गई. उदयराम जाट के बाड़े में दो ट्राली ज्वार की घास रखी हुई थी. गांव के ही जीतमल जाट के बाड़े से एक घास व दो-तीन क्वींटल लकडिय़ां जल गई.

सूचना पर भदेसर पुलिस थाना पुलिस मौके पर पहुंची. गांव के बद्रीलाल जाट ने दमकल के लिए सूचना की. इस पर नगर परिषद चित्तौडग़ढ़, बिड़ला सीमेंट, कपासन नगरपालिका की दमकल मौके पर पहुंची. और आग पर काबू पाया. यहां रेवलिया ग्राम पंचायत के सरपंच प्रतिनिधि मिट्ठूलाल जाट, ग्रामीण बद्रीलाल, जीतमल, ओमप्रकाश सालवी सहित कई ग्रामीण मौकेपर पहुंचे व आग बुझाने में सहयोग किया. इधर, जानकारी में सामने आया कि शिवपुरा गांव की नर्सरी में आग लगने की तीसरी घटना है. बार-बार आग लगने के कारणों का खुलासा नहीं हो पा रहा है. भैंसों के मरने की सूचना पर पशु चिकित्सक नोडल अधिकारी भदेसर डॉक्टर इम्तियाज अली ने किया. पशुधन सहायत अजय जाखड़ ने घायल मवेशियों का उपचार किया.

गांव में पहुंची जंगल की आग, तीन भैंसे जली DAINIK PUKAR. Dainik Pukar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*