कलेक्टर ने शहर का भ्रमण कर देखी यातायात व्यवस्था, चौराहों के चौड़ीकरण के निर्देश

ग्वालियर, 13 जुलाई (उदयपुर किरण). कलेक्टर अनुराग चौधरी ने शनिवार को शहर का भ्रमण कर यातायात व्यवस्था का जायजा लिया और अधिकारियों की बैठक लेकर उन्हें चौराहों के चौड़ीकरण के निर्देश दिए. उन्होंने ग्वालियर शहर के अलावा हाईवे पर 90 डिग्री के मोड़ के संबंध में कहा कि नेशनल हाईवे-3 थाना घाटीगाँव ग्राम सिमिरिया मोड़ पर 90 डिग्री का मोड़ है, जो कि संभावित दुर्घटना क्षेत्र है. उन्होंने नेशनल हाईवे के अधिकारियों से कहा कि मोड़ से 300 मीटर, 200 मीटर और 100 मीटर पर धीमे चलें के बोर्ड लगाए जाएं.  एडीशनल एसपी पंकज पाण्डेय ने इंटेलीजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम के द्वारा ग्वालियर शहर की ट्रैफिक व्यवस्था पर लाईव प्रजेण्टेशन प्रस्तुत किया.

बताया गया कि ग्वालियर शहर में अत्यधिक दवाब वाले क्षेत्र शिंदे की छावनी तिराहा,  स्टेशन बजरिया, बारादरी चौराहा, हजीरा चौराहा, ऊँट पुल, इन्दरगंज अचलेश्वर रोड़, रॉक्सी पुल, कम्पू केआरजी कॉलेज तिराहा, महाराज बाड़ा गाँधी गोलम्बर, किलागेट तिराहा, ग्राण्ड होटल बजरिया व फालका बाजार राम मंदिर तिराहा का भी चौड़ीकरण एवं रास्ते जाम करने वाले अतिक्रमणों को हटाया जायेगा. कलेक्टर ने कहा कि बजरिया स्टेशन के तिराहे पर एक होटल के पास लगे खम्बे को हटाकर रास्ता बनाया जाए, ताकि ट्रैफिक व्यवस्थित हो सके.

कलेक्टर अनुराग चौधरी ने एसपी नवनीत भसीन, नगर निगम आयुक्त संदीप माकिन, स्मार्ट सिटी सीईओ महिप तेजस्वी के साथ पड़ाव आरओबी का निरीक्षण किया. ब्रिज के दोनों तरफ ट्रैफिक किस तरह से सरलता से आ-जा सकता है, इस पर स्वयं पैदल चलकर देखा. साथ ही ग्राण्ड होटल चौराहे का भी भ्रमण कर ट्रैफिक व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाने हेतु अधिकारियों से चर्चा की. इसके बाद कलेक्टर सभी अधिकारियों के साथ सिटी सेंटर में पूर्व में अतिक्रमण को हटाने की कार्रवाई को देखने पहुंचे. नवजीवन नेत्रालय के सामने सडक़ चौड़ीकरण के निर्देश स्मार्ट सिटी सीईओ महिप तेजस्वी को दिए. उन्होंने पूर्व में वाटर हार्वेस्टिंग के लिए दुकानदारों को निर्देश दिए थे. जिस पर कई लोगों ने उक्त आदेश का पालन नहीं किया. जिनके विरूद्ध सख्त कार्रवाई के निर्देश उन्होंने एसडीएम बनवारिया को दिए. सालासर के पास नगर निगम की पार्किंग में फूड जोन वालों ने कब्जा कर रखा था, जिन्हें नगर निगम कमिश्नर से तत्काल हटाकर पार्किंग शुरू करने के लिए कहा. उन्होंने स्मार्ट सिटी की पार्किंग के संबंध में निर्देश दिए कि पार्किंग में कम वाहन आ रहे हैं, इसे बढ़ाने के लिए इस क्षेत्र के कर्मचारियों को मासिक पास बनाकर दिए जाएं और गेट पर एक चौकीदार को मय माइक के बिठाया जाए, ताकि आस-पास होने वाली अनाधिकृत पार्किंग को रोका जा सके.

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*