एस श्रीसंत से हटा आजीवन प्रतिबंध

एस श्रीसंत से हटा आजीवन प्रतिबंध

नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट ने स्पॉट फिक्सिंग मामले में एस श्रीसंत से आजीवन प्रतिबंध हटा लिया है. ये फैसला जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस के एम जोसेफ की बेंच ने स्पॉट फिक्सिंग मामले सुनाया.

जस्टिस अशोक भूषण की अध्यक्षता वाली सुप्रीम कोर्ट की पीठ ने बीसीसीआई से एस श्रीसंत को दी गई सज़ा की अवधि पर नए सिरे से पुनर्विचार करने के लिए कहा है.

आईपीएल-2013 में बीसीसीआई ने श्रीसंत को स्पॉट फिक्सिंग का दोषी पाए जाने पर लाइफटाइम के लिए बैन लगा दिया था. बीसीसीआई के इस प्रतिबंध के खिलाफ श्रीसंत ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी.

श्रीसंत पर भ्रष्टाचार, सट्टेबाजी और खेल भावना के साथ खिलवाड़ करने का आरोप लगा हैं. बीसीसीआई के वरिष्ठ वकील पराग त्रिपाठी ने कहा था कि खेल में भ्रष्टाचार और सट्टेबाजी के लिए आजीवन प्रतिबंध ही सही सजा है.

बीसीसीआई के वकील ने पराग त्रिपाठी ने इस मामले में रिकॉर्ड की गई टेलीफोन बातचीत का हवाला देते हुए कहा कि इससे साफ-साफ जाहिर हो रहा है कि जो रकम श्रीसंत ने मांगी थी वो उन्हें मिल गई थी.

बीसीसीआई ने कोर्ट में कहा था कि श्रीसंत ने उन 10 लाख रुपये के स्रोत के बारे में भी जांच समिति को नहीं बताया था. जिसका चर्चा टेलीफोन पर की गई बातचीत के दौरान किया गया है.

वहीं इस मसले पर श्रीसंत की तरफ से वकील सलमान खुर्शीद ने कहा था कि आईपीएल क दौरान कोई स्पॉट फिक्सिंग नहीं हुई थी. इसलिए जब फिक्सिंग हुई ही नहीं तो श्रीसंत के खिलाफ लगाएं गए सभी आरोप बेबुनियाद है.


http://udaipurkiran.in/hindi

एस श्रीसंत से हटा आजीवन प्रतिबंध DAINIK PUKAR. Dainik Pukar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*